भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी : पीएम मोदी ने दिया अजेय भारत-अटल भाजपा का नारा


IC : EMS

सत्ता हमारे लिए कुर्सी नहीं, जनता के बीच में काम करने का उपकरण है

2019 के लिये भाजपा ने कसी कमर, विपक्ष को नेता, नीति व रणनीति विहिन बताया

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक के आखिरी दिन रविवार को पार्टी ने कई मुद्दों पर मंथन किया। सत्र के प्रारंभ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि देते हुए ‘अजेय भारत-अटल भाजपाÓ का नारा दिया। मोदी ने कहा कि भारत कभी भी किसी के वशीभूत नहीं हुआ और भाजपा अपने सिद्धांतों पर ही चलेगी। बैठक के बाद केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने मीडिया को बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण में कहा, अटल जी ने भाजपा के विचार, संस्कार और भाजपा के नेतृत्व को एक नई ऊंचाई दी। आज हमारा सूरज तो चला गया, लेकिन हम जो सितारें है वो चमकर इस विचारधारा के प्रकाश को आगे ले जाएं। हम सत्ता को कुर्सी के रूप में नहीं देखते बल्कि सत्ता को जनता के बीच में काम करने का उपकरण समझते हैं।

विपक्ष के पास न नेता, न नीति: जावड़ेकर

केंद्रीय मानव विकास संसाधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि महागठबंधन के पास न तो कोई नेता और और न ही नीति। उनका एकमात्र एजेंडा केवल मोदी को रोकने का है। विपक्ष बुरी तरह से हताश हो चुका है।

विजन 2022 में राम मंदिर का जिक्र नहीं

दो दिवसीय बैठक का रविवार को समापन हो गया। लेकिन भाजपा का मुख्य मुद्दा राम मंदिर गायब रहा। जावड़ेकर ने बताया कि बैठक में केंद्रीय गृहमंत्री और वरिष्ठ नेता राजनाथ सिंह ने राजनीतिक प्रस्ताव रखा, जिसको कार्यसमिति ने पास कर दिया। इस राजनीतिक प्रस्ताव में विश्वास जताया गया है कि न्यू-इंडिया का सपना हर हाल में पूरा होगा। राजनाथ सिंह द्वारा पेश किए गए विजन 2022 में अयोध्या में राम मंदिर बनाने का जिक्र नहीं है। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने अपने प्रस्ताव में पीएम मोदी के विजन 2022 की सराहना की। प्रस्ताव में न्यू इंडिया की बात कही गई, जो गरीबी से मुक्त होगी और जिसमें कोई बेघर नहीं होगा। वहीं राफेल डील को लेकर किए गए सवाल पर जावड़ेकर ने बताया कि प्रस्ताव में राफेल सौदे का कोई जिक्र नहीं था। उन्होंने कहा कि इस सौदे में जो लोग भ्रष्टाचार का आरोप लगा रहे हैं, उन्हें यह समझना होगा कि इस डील में बिचौलिया शामिल नहीं था।

अगले पेज पर देखिये कैसे अगले 50 वर्ष भाजपा को कोई हरा नहीं सकता…