बिशप फ्रैंको जेल से बाहर, जालंधर जाएंगे


Photo : IANS

पाला(केरल)। केरल उच्च न्यायालय से जमानत मिलने के एक दिन बाद कैथोलिक बिशप फ्रैंको मुलक्कल कोट्टायम के समीप पाला उप-कारागार से बाहर निकल गए। बिशप को एक नन के साथ दुष्कर्म के आरोप में 21 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था।

मुलक्कल के करीबी सहयोगी व निर्दलीय विधायक पी.सी. जॉर्ज ने कहा, “वह अपराह्न् दो बजे जेल से बाहर आए। वह कोचीन से पंजाब के जालंधर के लिए उड़ान भरेंगे।”

जॉर्ज ने कहा, “मैंने उन्हें उनकी कार तक पहुंचाया, क्योंकि वहां सैकड़ों लोग बिशप के प्रति अपने समर्थन का इजहार करने के लिए उपस्थित थे।”

उन्होंने कहा, “वहां कई नन और शुभचिंतक समेत उनके सैकड़ों समर्थक मौजूद थे, जिन्होंने जेल के बाहर एक छोटी प्रार्थनासभा आयोजित की।”

बिशप को कठोर शर्तो के साथ जमानत दी गई है। शर्त के अनुसार, वह केरल में प्रवेश नहीं करेंगे, अपना पासपोर्ट सौपेंगे और दो सप्ताह में एक बार पुलिस के समक्ष पेश होंगे।

मुलक्कल को 21 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था। तीन दिन की पूछताछ के बाद 24 सितंबर को उन्हें दो हफ्तों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था।

-आईएएनएस