बाल दिवस पर नीति आयोग की ओर से युवा चैम्पियन पुरस्कारों की घोषणा


बाल दिवस पर नीति आयोग के अटल नवाचार मिशन और यूनिसेफ इंडिया का युवा चैम्पियन पुरस्कार एक साथ शुरू किया है।
Photo/Twitter

नई दिल्ली। भारत के किशोरों के लिए एक मंच उपलब्ध कराने और सतत विकास में उनका योगदान सुनिश्चित करने के लिए इस बाल दिवस पर नीति आयोग के अटल नवाचार मिशन और यूनिसेफ इंडिया का युवा चैम्पियन पुरस्कार एक साथ शुरू किया है।

राष्ट्रीय बाल दिवस के अवसर पर नवाचार का आयोजन करते हुए, नीति आयोग के उपाध्यक्ष डॉ. राजीव कुमार और यूएन रेजिडेंट कोडिनेटर तथा भारत में यूएनडीपी के रेजिडेंट प्रतिनिधि यूरी अफानासिव ने आज यूनिसेफ – अटल टिंकरिंग लैब यंग चैम्पियन पुरस्कार घोषित किये। अटल नवाचार मिशन के मिशन निदेशक रामानाथन रामानन और यूनिसेफ की आपरेशन प्रमुख सुश्री लारा सिगरिस्ट फुशे भी उपस्थित थे। देशभर के ६ शीर्ष सर्वाधिक नवाचार समाधानों के लिए पुरस्कार प्रदान किये गये, जिन्हें अटल टिंकरिंग मैराथन के माध्यम से चयनित किया था।

सामुदायिक समस्याओं में रूचि रखने और नवाचार समाधानों के विकास के लिए छात्रों को प्रोत्साहित करना इसका उद्देश्य है। पूरे भारत के २० राज्यों और केन्द्रशासित प्रदेशों से लगभग ६५० नवाचार प्राप्त किये गये थे, जिनमें से ३० नवाचारों का चयन किया था। ये शीर्ष ३० नवाचार एक बड़े आंदोलन के प्रतीक हैं, जो देश के प्रत्येक स्कूल में और प्रत्येक जिले में अपनी जड़े जमा रहे हैं। अटल नवाचार मिशन और यूनिसेफ ने १४ से १७ नम्बर तक ७२ घंटे के एक टिंकरिंग हेकाथन का शुभारंभ किया है, ताकि बच्चे विशेषकर स्कूलों में शिक्षा की गुणवत्ता और सुरक्षा से जुड़ी समस्याओं के समाधान के लिए नवाचार समाधानों के साथ आगे आएं। हेकाथान के विजेताओं की घोषणा विश्व बाल दिवस पर २० नवम्बर को की जाएगी।

– ईएमएस