अनंत कुमार पंचतत्व में विलीन, बेंगलुरु में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई


केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता अनंत कुमार को बेंगलुरु में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी जा रही है।
(Photo: IANS)

बेंगलुरु। केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता अनंत कुमार को बेंगलुरु में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी जा रही है। इस दौरान उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू, भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, रविशंकर प्रसाद, पीयूष गोयल, निर्मला सीतारमण और पीयूष गोयल मौजूद हैं। इससे पहले सोमवार को पीएम नरेंद्र मोदी ने दिवंगत केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार को उनके आवास पर जाकर श्रद्धांजलि दी।

ज्ञात रहे कि केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार का निधन रविवार देर रात करीब डेढ़ बजे हो गया। वे कैंसर से पीड़ित थे। 59 साल के अनंत कुमार का पहले लंदन और न्यूयॉर्क में इलाज चला और 20 अक्टूबर को ही उन्हें बेंगलुरु लाकर एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती किया गया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत तमाम बड़े नेताओं ने उनके निधन पर दुख व्यक्त किया है। पीएम नरेंद्र मोदी ने लिखा कि मेरे सहकर्मी और दोस्त अनंत कुमार के निधन के बारे में सुनकर मुझे काफी दुख हुआ। वह शानदार नेता थे, जिन्होंने युवा के रूप में राजनीति में कदम रखा और अब तक अत्यंत परिश्रम और करुणा के साथ लोगों की सेवा में लगे थे। उन्हें हमेशा उनके अच्छे कामों के लिए याद किया जाएगा। मोदी ने बताया कि उन्होंने अनंत कुमार की पत्नी तेजस्विनी से भी बात की है।

(Photo: IANS)

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने मंगलवार को केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार के निधन पर शोक प्रकट किया। कुमार का एक दिन पहले बेंगलुरू में निधन हो गया था। वह कैंसर से पीड़ित थे और उनके कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया था। कैबिनेट ने उनकी याद में दो मिनट का मौन भी रखा। 59 वर्षीय भाजपा सासंद ने शंकरा कैंसर अस्पताल में सोमवार तडक़े तीन बजे अपनी आखिरी सांस ली। 21 अक्टूबर को अमेरिका से लौटने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जिसके तीन सप्ताह बाद उनका निधन हो गया। कुमार के कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया था। इस बीच मंगलवार को भाजपा के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने बेंगलुरू में कुमार के पार्थिव शरीर को श्रद्धांजलि दी।

– ईएमएस