17 महीने में 76 लाख लोगों को मिला रोजगार


रोजगार के मोर्चे पर घिरी मोदी सरकार को राहत मिली है। एक रिपोर्ट के मुताबिक पिछले 17 महीनों में देश के करीब 76 लाख लोगों को रोजगार मिला है।
Photo/Twitter

नई दिल्ली। रोजगार के मोर्चे पर घिरी मोदी सरकार को राहत मिली है। एक रिपोर्ट के मुताबिक पिछले 17 महीनों में देश के करीब 76 लाख लोगों को रोजगार मिला है। वहीं जनवरी में पिछले साल के मुकाबले 131 फीसदी इजाफा देखने को मिला है। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक इन 17 महीनों में सबसे ज्यादा नौकरियां लोगों को इस साल जनवरी महीने में मिली हैं। ईपीएफओ सितंबर 2017 से उन लोगों का डाटा जारी कर रहा है, जिनके नाम उसके यहां पर जुड़े हैं। पिछले साल जनवरी में करीब 3.87 लाख नए अंशधारक ईपीएफओ से जुड़े थे। वहीं सितंबर 2017 में 2,07,609 लोग नौकरी से जुड़े थे।

यह केवल संगठित क्षेत्र से जुड़े लोगों का आंकड़ा है। हालांकि इस डाटा के अनुसार 29023 लोगों को नौकरी छोडऩी पड़ी थी। वहीं पिछले महीने करीब 5498 लोगों ने नौकरी पाई थी। मार्च वित्तीय वर्ष का आखिरी महीना होता है, ऐसे में लोग सबसे ज्यादा इस महीने में नौकरी छोड़ते हैं। ईपीएफओ ने यह आंकड़ा नए यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (यूएएन) जारी होने के आधार पर जारी किया है। ईपीएफओ ने कहा कि सबसे ज्यादा नई नौकरियां 22-25 वर्ष की उम्र के लोगों ने पाई हैं। इसकी संख्या करीब 2.44 लाख है। इसके बाद दूसरे नंबर पर 18-21 साल के फ्रेशर हैं, जिनकी संख्या 2.24 लाख है। फिलहाल ईपीएफओ अंशधारकों की संख्या छह करोड़ से ज्यादा है।

– ईएमएस