‘आप’ पार्टी के 6 साल पूरे, स्थापना दिवस पर केजरीवाल बोले, मोदी सरकार चला रहे हैं या अखाड़ा


आम आदमी पार्टी (आप) ने दिल्ली के आईटीओ में मौजूद दफ्तर में सोमवार को अपना स्थापना दिवस मनाया।
Photo/Wikipedia

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी (आप) ने दिल्ली के आईटीओ में मौजूद दफ्तर में सोमवार को अपना स्थापना दिवस मनाया। इस कार्यक्रम में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के अलावा पार्टी कार्यकर्ता, पार्षद, विधायक, मंत्री और सांसद मौजूद रहे। इस कार्यक्रम के दौरान आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने मुंबई २६/११ हमले में जान गंवाने वाले लोगों को २ मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी। २६ नवंबर, २०१२ में आम आदमी पार्टी की स्थापना हुई थी। बीते ६ साल में पार्टी ने कई उतार चढ़ाव देखे हैं। २०१३ में ४९ दिन की गठबंधन वाली सरकार से लेकर २०१५ में ६७ सीटों वाली सरकार तक इस पार्टी की उपलब्धियों में शामिल है।

हालांकि, २०१५ से २०१८ के बीच पार्टी को कई अंदरूनी विवादों से जूझना पड़ा और योगेंद्र यादव से लेकर प्रशांत भूषण और कुमार विश्वास जैसे बड़े नेताओं से मतभेद काफी चर्चा में रहे। पिछले साल रामलीला मैदान में स्थापना दिवस मनाया गया था। लेकिन इस बार पार्टी ने आईटीओ दफ्तर में आयोजन किया। पार्टी ने स्थापना दिवस को ‘क्रांति के ६ साल’ नाम दिया। मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कार्यक्रम में शामिल होने आए कहा कि आज ही के दिन २६ नवंबर १९४९ को देश का संविधान तैयार हुआ और आज ही के दिन हमारी पार्टी का जन्म हुआ। देशभर में संविधान के ऊपर मंडरा रहे खतरे से लड़ने के लिए आज आम आदमी पार्टी सक्षम है। कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हम सबसे पहले दिल्ली का चुनाव लड़े थे, तब लोग हमारी जमानत जब्त होने की भविष्यवाणी कर रहे थे। ४९ दिन की सरकार में कई काम करके दिखाए और नरेंद्र मोदी के रथ और आंधी के बीच दिल्लीवालों ने ७० में से ६७ सीट जिता दी। इन साढ़े ३ साल के अंदर मोदी जी ने हमारी नाक में जमकर दम किया, खूब अड़चन भी डालते हैं।

सीएम केजरीवाल ने कहा कि ४९ दिन की सरकार में भ्रष्टाचार खत्म हो गया था, तब हमारे पास एंटी करप्शन ब्रांच थी और ३ अफसरों को जेल भेज दिया था। तब रिश्वत लेने से डर लगता था। जैसे ही ६७ सीट वाली सरकार बनी फोर्स भेजकर एंटी करप्शन ब्रांच पर कब्जा कर लिया। मोदी जी पाकिस्तान बर्थडे मनाने जाते हैं और दिल्ली में फोर्स भेजते हैं। अमित शाह ने चारों तरफ खूब अफवाह फैलाई। मेरे ऊपर सीबीआई की रेड कराई। मनीष सिसोदिया, सत्येंद्र जैन, कैलाश गहलोत पर रेड कराई। उन्होंने कहा कि मेरे ऊपर पुलिस के केस कर दिए, ४०० फाइल उठाकर ले गए। लेकिन हमारे खिलाफ कुछ नहीं मिला। मुझे ईमानदारी का सर्टिफिकेट पीएम मोदी से मिला है। दिल्ली की जनता हक से कहती है कि हमारा सीएम ईमानदार है। हमारी सेनाओं के हवाई जहाज के पैसे खा गए। ५०० करोड़ का जहाज १५०० करोड़ में खरीदा। केजरीवाल ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि विजय माल्या ने ६ हजार करोड़ का लोन लिया और वो विदेश भाग गया। मोदी जी सरकार चला रहे हैं या अखाड़ा चला रहे हैं। माल्या भाग नहीं गया, उसे भगाया गया। नीरव मोदी भी पैसे लेकर भाग गया। ये सरकार बैंक से पैसा दिलवाती है और रात में हवाई जहाज से भगा देती है। मोदी जी १२ साल तक गुजरात मॉडल चिल्लाते थे लेकिन हम चैलेंज करते हैं कि उन १२ साल को दिल्ली के साढ़े ३ साल से मिला लो। आम आदमी पार्टी सरकार के साढ़े ३ साल मोदी के गुजरात मॉडल के १२ साल पर भारी हैं।

– ईएमएस