25000 एलईडी लाइट लगेगी दिल्ली में


नई दिल्ली। दक्षिणी दिल्ली नगर निगम ने अपने क्षेत्र में पच्चीस हजार से ज्यादा ऐसी जगहो की पहचान की है जहां लाइट की सुविधा नहीं दी गई। इनमें से कई जगहों पर तो स्ट्रीट लाइट नहीं है और कई जगहें ऐसी हैं जहां पर खंभे तो लगे हैं लेकिन लाइट नहीं है। निगम ने इन सभी जगहों पर एलईडी लाइट लगाने की शुरूआत की है। दिल्ली में स्ट्रीट लाइट के लिए आमतौर पर सोडियम लाइटों का प्रयोग किया जाता रहा है। लेकिन, लगभग साल भर पहले एलईडी लाइटों के प्रचलन के साथ ही राजधानी की छह लाख के लगभग स्ट्रीट लाइटों को बदलने की परियोजना पर काम शुरू किया गया। दक्षिणी दिल्ली नगर निगम क्षेत्र में लगभग एक लाख ९८ हजार स्ट्रीट लाइट हैं। ऐसा माना जा रहा है कि इन सभी पर से सोडियम लाइट हटाकर एलईडी लाइट लगाने का काम इस माह के अंत तक पूरा कर लिया जाएगा। स्थानीय पार्षदों ने अपने क्षेत्र में तमाम ऐसी जगहों की जानकारी दी है जहां पर स्ट्रीट लाइट नहीं लगी हैं। इनमें से कई ऐसी पतली गलियां हैं जहां पर स्ट्रीट लाइट के लिए खंभे लगाने की जगह नहीं है जबकि परियोजना के दौरान इस तरह के खंबों की भी जानकारी मिली है जहां पर सोडियम लाइट ही नहीं लगी हुई है। निगम की स्थायी समिति अध्यक्ष राधे श्याम शर्मा ने बताया कि जहां पर सोडियम लाइट लगी हुई है वहीं पर एलईडी लाइट लगाने का काम किया जा रहा है। एलईडी बल्ब से निगम का बिजली पर होने वाला खर्च काफी कम हो जाएगा।