2 जुलाई से शुरू होगी अमरनाथ यात्रा


जम्मू। देश के विभिन्न राज्यों से बाबा बर्फानी के दर्शनों के लिए आने वाले श्रद्धालुओं को इस साल दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। चौथे पुल पर जारी मरम्मत कार्य के चलते जहां इन श्रद्धालुओं को यात्री निवास पहुंचने में परेशानी आएगी, वहीं करंट पंजीकरण करने वाले श्रद्धालुओं को दो-दो बार कतारों में खड़ा होना पड़ेगा। श्री बाबा अमरनाथ यात्रा दो जुलाई से आरंभ होने जा रही है। प्रशासन अपने तौर पर श्रद्धालुओं को बेहतर सुविधाएं प्रदान करने का प्रयास कर रहा है। इसी उद्देश्य के साथ इस साल पहली बार करंट पंजीकरण करवाने श्रद्धालुओं के लिए टोकन काउंटर भी खोला जा रहा है। यात्रा के आरंभ के दौरान करंट पंजीकरण श्रद्धालुओं की संख्या के मुकाबले काफी कम रहता है। ऐसे में निजी वाहनों, बसों से आने वाले श्रद्धालु करंट पंजीकरण करवा यात्रा को रवाना हो जाते हैं। परंतु इस बार इन श्रद्धालुओं को पहले टोकन हासिल करने के लिए संगम बैंक्वेट हॉल जाना होगा जहां कतारों में खड़े होकर वह रजिस्ट्रेशन फॉर्म, मेडिकल फॉर्म आदि दस्तावेज चैक करवाकर टोकन हासिल करेंगे। उसके उपरांत उन्हें वैष्णवी धाम, सरस्वती धाम या फिर महाजन हाल, जहां उनकी टोकन संख्या होगी उन्हें वहां पहुंचकर फार्म जमा करवाने के लिए फिर कतारों में खड़ा होना पड़ेगा।