10 रु. में 4 समोसे : सस्ता बेचना पड़ा मंहगा


– खरीदने के लिए उमड़ी भीड़ पर लाठीचार्ज
– पुलिस ने दुकानदारों को भेजे नोटिस
ग्वालियर। आम लोगों को आकर्षित करने के लिए दुकानदार दिन-प्रतिदिन कई तरीके अपनाते है। लेकिन कभी-कभी यही आइडिया आकर्षण दुकानदार के साथ पुलिस के लिये टेंशन बन गया। दरअसल ग्वालियर के बहोडापुर में दो नाश्ता दुकान संचालकों के बीच चली होड़ ने पुलिस को इस कदर परेशान किया कि भीड़ को संभालने फोर्स तैनात करना पड़ा है। कहीं तो भीड़ हटाने के लिये पुलिस को लाठीचार्ज भी करना पड़ा। बहोडापुर पुलिस ने मामला ज्यादा बिगड़ता दिखा तो दोनों दुकानदारों को नोटिस थमाकर चेतावनी भी दे डाली, अगर अब किसी ने भी प्रतिस्पर्धा के चलते नाश्ता सस्ता किया तो दोनों को हवालात की हवा खाने मिलेगी। इसके बाद हंगामा शांत हुआ। दरअसल, प्रतिस्पर्धा की शुरूआत लगभग १० दिन पहले हुई।
० किसने की शुरूआत
बहोडापुर पर जय भोले नाश्ता सेंटर के सामने ही आगरा नाश्ता सेंटर संचालक ने सस्ता नाश्ता बेचना शुरू कर दिया। १० रुपए के दो समोसे से बढ़ते हुए होड़ यहां तक पहुंच गई कि ५ दिन तक दोनों दुकानों पर पाqब्लक को १० रुपए के ४ समोसे मिले। सुबह और शाम ाqस्थति यह हो गई कि दोनों दुकानों पर इस कदर भीड़ बढ़ जाती कि पुलिस को तैनात रहना पड़ता। पुलिस को अंदेशा था कि कहीं कोई व्यक्ति या वाहन भीड़ की चपेट में न आ जाए। ज्यादा सस्ते नाश्ते के चक्कर में भीड़ बढ़ने पर बहोडापुर पुलिस को हस्तक्षेप करना पड़ा।
० दोनों को मिला नोटिस
दोनों दुकानदारों को नोटिस थमा दिया कि यदि अब दुकानदारों की वजह से इस तरह की ाqस्थति बनी तो सख्त कार्रवाई की जाएगी। इसके बाद प्रतिस्पर्धा खत्म हुई। वैâसे शुरू हुई होड़ः जय भोले के यहां १० रुपए का एक समोसा था, लेकिन आगरा नाश्ता सेंटर ने १० रुपए के २ समोसे बेचना शुरू कर दिए। इससे ग्राहकों की भीड़ दूसरी दुकान पर जाना शुरू हो गई। ग्राहकों को रोकने के लिए जयभोले ने जब १० रुपए के ३ समोसे बेचे तो दूसरा दुकानदार १० रुपए के ४ समोसे बेचने लगा। इसी प्रकार जलेबी ५० रुपए किलो तक बिकी।
० होड़ का खेल
आपस में दोनों दुकानदारों के बीच होड़ चल रही है, जिसकी वजह से सड़क पर न्यूसेंस की ाqस्थति र्नििमत हो रही थी। इसलिए दुकानों के पास ही चेिंकग लगवाई है, जिससे वाहन खड़े न हों। इसके अलावा दुकानदारों को नोटिस भी दे दिया गया है कि यदि उनकी वजह से ट्रैफिक जाम या न्यूसेंस की ाqस्थति र्नििमत हुई तो दुकानों को बंद करा दिया जाएगा।