हर शताब्दी एक्सप्रेस ट्रेनों की सीट पर होगी टीवी


नई दिल्ली। दिल्लीr-कालका शताब्दी के बाद अब दिल्लीr से चलने वाली सभी ११ शताब्दी एक्सप्रेस ट्रेनों में टीवी लगाए जाएंगे। सीटों के पीछे लगने वाले यह टीवी ठीक उसी तरह से लगाए जाएंगे, जिस तरह से हवाई जहाजों में लगे होते हैं। फिलहाल दिल्लीr-कालका शताब्दी के दो कोच में ही ट्रायल के तौर पर इन्हें लगाया गया था। मगर जल्द ही यह सुविधा अन्य शताब्दी ट्रेनों में भी दे दी जाएगी। इसके अलावा नई दिल्लीr और पुरानी दिल्लीr रेलवे स्टेशनों को भी मेट्रो स्टेशनों की तरह अधिक से अधिक एस्कलेटरों से लैस किया जाएगा। नॉर्दर्न रेलवे की दिल्लीr डिविजन के डीआरएम अरुण अरोड़ा ने रेल मंत्री सुरेश प्रभु के बजट को लैंडमार्क बताते हुए कहा कि नई ट्रेनों का ऐलान ना करके अच्छा किया गया है। उन्होंने बताया कि फिलहाल मौजूदा इन्फ्रास्ट्रक्चर को देखें तो नई ट्रेनों चलाने की क्षमता नहीं है। बजट में सारा फोकस पैसेंजर्स पर किया गया है। इससे आने वाले समय में यात्रियों को खासा फायदा होगा। शताब्दी एक्सप्रेस ट्रेनों में टीवी लगाए जाने के रेलवे के एक अन्य अफसर ने बताया कि इस योजना पर गंभीरता से काम किया जा रहा है। अभी दिल्लीr-कालका शताब्दी के दो कोच में ही ऑन बोर्ड टीवी देखने की सुविधा है। दो महीने में इसके सारे कोचों में टीवी लगा दिए जाएंगे। इसके बाद दिल्लीr-अमृतसर शताब्दी में टीवी लगाए जाएंगे और फिर इस साल के अंत तक उम्मीद है कि सभी शताब्दियों में इन्हें लगा दिया जाएगा। इसके अलावा रेलवे की ओर से यह भी बताया गया कि दिल्लीr के बड़े रेलवे स्टेशनों को मेट्रो स्टेशनों की तरह बनाए जाने पर काम किया जा रहा है। इसमें सबसे पहले नई दिल्लीr रेलवे स्टेशन के सभी १६ प्लेटफॉर्म पर उतरने और चढ़ने के लिए एस्कलेटर लगाए जाएंगे। फिलहाल इस स्टेशन पर चार एस्केलेटर लगे हैं। इनमें दो खराब बताए गए हैं। इसके बाद पुरानी दिल्लीr रेलवे स्टेशन पर भी और अधिक एस्कलेटर लगाए जाएंगे। यही नहीं, दिल्लीr में ऐसी १२ रेलवे क्रॉसिंग हैं जोकि खतरनाक मानी जाती हैं। इन सभी को खत्म करके यहां लॉ हायेस्ट सब-वे (एलएचएस)बनाए जाएंगे। यह सारा काम २०१५-१६ तक पूरा कर लिया जाएगा। पांच मिनट में अनारक्षित टिकट मिल सके। इसके लिए क्योस्क लगाए जाएंगे। फिलहाल नई दिल्लीr रेलवे स्टेशन सहित कई अन्य स्टेशनों पर कुछ टिकट वेंडिंग मशीनें लगी हुई हैं। लेकिन उनसे आम यात्रियों को टिकट लेना काफी मुशकिल भरा काम है। इसलिए इस तरह के क्योस्क लगाए जाएंगे जोकि पैसेंजर फ्रेंडली हों। नई दिल्लीr रेलवे स्टेशन पर वाई-फाई की सुविधा होने के बाद अब अगला चरण हजरत निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन होगा। इसके बाद पुरानी दिल्लीr और आनंद विहार रेलवे स्टेशन पर इस सुविधा को शुरू किया जाएगा।