सिद्धू को अहम जिम्मेदारी देने संबंधी मोदी सरकार के संकेत


-पंजाब, उप्र सहित ५ राज्यों के विस चुनाव में स्टार प्रचारक की भूमिका
नईदिल्ली । गत ३ वर्षों से हासिये पर चल रहे भाजपा सांसद नवजोत िंसह सिद्धू को वेंâद्र की मोदी सरकार बड़ी जिम्मेदारी दे सकती है। इलाहाबाद में हुई २ दिवसीय भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में पार्टी हाईकमान ने इसके संकेत दे दिए हैं। यही कारण है कि सिद्धू को खास तवज्जो दी गई है। २०१४ के लोकसभा चुनाव के बाद से सक्रिय राजनीति से गायब रहे सिद्धू को फिर से सियासत में चेहरा बनाने की तैयारी हो रही है। इसकी बुनियाद प्रयाग के के.पी. ग्राऊंड राष्ट्रीय कार्यकारिणी स्थल में रख दी गई है। इसका रिजल्ट भी बहुत जल्द देखने को मिल जाएगा। सूत्रों की मानें तो सिद्धू जल्द ही भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की नई टीम का हिस्सा बनने जा रहे हैं। उन्हें अगले साल होने जा रहे पंजाब, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश सहित ५ राज्यों के विधानसभा चुनावों में स्टार प्रचारक की भूमिका भी दी जा सकती है। इसके अलावा उनका ज्यादा फोकस पंजाब विधानसभा चुनाव पर रखवाया जाएगा। यहां तक कि कार्यकारिणी के दूसरे दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब इलाहाबाद में शहीद-ए-आजम चंद्रशेखर आजाद की प्रतिमा पर श्रद्धांजलि देने गए तो उसकी जानकारी मीडिया को देने के लिए पार्टी हाईकमान ने सांसद सिद्धू को उतारा जबकि ठीक ५ मिनट पहले ही वेंâद्रीय मंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता नितिन गडकरी कार्यकारिणी बैठक की जानकारी देने के लिए मीडिया के समक्ष पेश हुए थे। गडकरी प्रैस कांप्रैंâस से उठकर अंदर पहुंचे भी नहीं थे कि सिद्धू मंच पर पहुंच गए और राष्ट्रीय मंत्री श्रीकांत शर्मा के साथ प्रैस कांप्रैंâस की। यह मीडिया में चर्चा का विषय बन गया। हालांकि बाद में सिद्धू ने किसी भी तरह की कोई जानकारी मीडिया से शेयर नहीं की लेकिन सूत्रों की मानें तो शाह ने सिद्धू को सक्रिय राजनीति में फिर उतारने की तैयारी कर ली है। शाह के इस कदम के सियासत में कई मायने निकाले जा रहे हैं।