समृद्धि के मुफ्त इलाज ने अस्पताल को दिलाए 2.5 करोड़


मुंबई ।पिछले साल हुई रेल दुर्घटना में अपना बायां पैर गंवा देने वाली ३ साल की समृद्धि नागते बीएमसी के सायन अस्पताल के लिए खुशकिश्मत साबित हुई। दिवा-सावंतवाडी रेल दुर्घटना में घायल हुई इस बच्ची का अस्पताल द्वारा मुफ्त इलाज किए जाने की खबर को पढ़कर कोरिया की एक वंâपनी ने अस्पताल को ‘कॉर्पोरेट सोशल रिस्पॉाqन्सबिलिटी (सीएसआर)’ के तहत २.५ करोड़ रुपए के मेडिकल उपकरण देने की पेशकश की है। आने वाले एक सप्ताह में अस्पताल को इस सीएसआर कार्यक्रम के तहत कई आधुनिक तकनीक वाली रेडियोलॉजी मशीनें, अल्ट्रासाउंड मशीनें, डयूल डिटेक्टर आदि मशीनें मिल जाएंगी। गौरतलब है कि कि पिछले साल ४ मई को दिवा-सावंतवाडी के बीच हुई रेल दुर्घटना में समृद्धि का पूरा परिवार घायल हो गया था। इस घटना में समृद्धि की मां की मौत हो गई थी। समृद्धि के इलाज से लेकर उसे प्रोस्थेटिक पैर देने तक का पूरा इलाज सायन अस्पताल में हो रहा है। बता दें की एक अखबार में प्रकाशित किया गया था कि किस तरह बीएमसी का सायन अस्पताल समृद्धि के इलाज के खर्च के साथ उसकी शिक्षा के लिए भी तैयारी कर रहा है।
अस्पताल से मिली जानकारी के मुताबिक कोरिया की वंâपनी ‘सैमसंग मेडिकल सिस्टम’ ने अखबारों के माध्यम से समृद्धि के विषय में जाना और उससे प्रेरित होकर बीएमसी के सायन ाqस्थत लोकमान्य तिलक जनरल अस्पताल (एलटीजीएम) को सीएसआर ऐाqक्टविटी के तहत २.५ करोड़ रुपए के मेडिकल उपकरण देने का निर्णय किया। बुधवार को कोरिया से आए इस वंâपनी के प्रतिनिधियों ने अस्पताल का दौरा किया और जल्द से जल्द अस्पताल को नए उपकरण देने की बात कही।