संसद में कॉल ड्रॉप की समस्या नहीं होगी..


नई दिल्ली । आम नागरिकों को भले ही कॉल ड्रॉप की कठिनाई का सामना करना पड़ रहा हो लेकिन अब सांसदों को संसद के अंदर इस तकलीफ का सामना नहीं करना पड़ेगा। थोड़े समय के लिए ही सही इस समस्या के अस्थाई निवारण के तौर पर कॉम्पलेक्स में एक मोबाइल टॉवर खड़ा किया गया है। इससे पहले सुरक्षा कारणों से ऐतिहासिक संसदीय कॉम्पलेक्स में मोबाइल टॉवर की मांग को खारिज कर दिया गया था। लेकिन सांसदों की लगातार बढ़ती शिकायतों के बाद सरकार को हार माननी ही पड़ी। पिछले हफ्ते लोकसभा में संसद भवन में खराब कनोqक्टविटी की समस्या को उठाया गया था। महाराष्ट्र की सांसद सुप्रिया सुले ने खराब थ्रीजी र्सिवस की तरफ ध्यान खींचा था। इन शिकायतों पर जवाब देते हुए टेलिकॉम मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि ८८ साल पुरानी इस इमारत की विरासत और सुरक्षा के पहलू को भी देखा जाना जरूरी है। मोबाइल टॉवर को एक गाड़ी के ऊपर खड़ा किया गया है, इसके अलावा एक अतिरिक्त टॉवर भी रखा गया है। सिर्पâ सांसद ही नहीं, संसद से रिपोा\टग करने वाले पत्रकारों को भी खराब कनोqक्टविटी की समस्या का सामना करना पड़ता है। सूत्रों का कहना है कि मोबाइल टॉवर से कम से कम संसद भवन के अंदर तो कॉल ड्रॉप की समस्या दूर हो सकेगी।