शिवराजसिंह चौहान छोड़े मुख्यमंत्री पद: मनीष तिवारी


नई दिल्ली । मध्य प्रदेश में हुए व्यापम घोटाले को लेकर कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी पर हमले तेज कर दिए हैं। कांग्रेस नेताओं ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज िंसह चौहान को भी घोटाले में शामिल बताते हुए उनसे पद छोड़ने की मांग की है। कांग्रेस नेता मनीष तिवारी का कहना है कि अगर शिवराज िंसह पर आरोप लगे हैं, तो उन्हें मुख्यमंत्री की कुर्सी छोड़ देनी चाहिए। इससे व्यापमं घोटाले की जांच में सुविधा होगी।’
साथ ही तिवारी ने जम्मू-कश्मीर में पीडीपी और भाजपा के मिलकर सरकार बनाने के बारे में चल रही चर्चाओं पर कहा कि उन्हें नहीं लगता कि ऐसा कभी हो सकता है। उनका कहना है, ‘अगर कभी पीडीपी और भाजपा एक साथ मिलकर जम्मू-कश्मीर में सरकार बनाते हैं, तो इसका मतलब होगा कि सूर्य पूर्व ने नहीं पाqश्चम से मिकला है।’ वहीं संघ द्वारा किरण बेदी को मुख्यमंत्री पद की दावेदार बनाने को भाजपा की बड़ी भूल बताने पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए मनीष तिवारी ने कहा, ‘अरे, आप बस छह महीने और रुक जाइए। आपको यह लाइन पढ़ने को मिलेगी कि नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री पद का दावेदार बनाना हमारी सबसे बड़ी मूर्खता थी।’
महाराष्ट्र में लेफ्ट के नेता गोिंवद पानसरे पर हुए जानलेवा पर मनीष तिवारी का कहना है, ‘गोिंवद पानसरे और उनकी पत्नी पर जो जानलेवा हमला हुआ, वो दुर्भाग्यपूर्ण है। महाराष्ट्र सरकार को इसकी नैतिक जिम्मेदारी लेनी चाहिए और आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार कर कड़ी से कड़ी सजा देनी चाहिए।’