व्हाट्सऐप को टक्कर देगा पांचवीं के छात्र अशेष का ‘ड्राइक’


हरिद्वार । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वाकांक्षी योजना ‘स्टार्ट अप इंडिया’ का भविष्य उज्ज्वल नजर आ रहा है। हरिद्वार के १० वर्षीय अशेष अरोड़ा का कारनामा तो यही संकेत दे रहा है।
१० साल की उम्र में जहां आम बच्चे खेलने-वूâदने में मस्त रहते हैं, वहीं पांचवीं के छात्र अशेष ने ऐसी सोशल ऐप बनाई है जो काफी तेजी से काम करती है। ये दूसरे सोशल ऐप के मुकाबले काफी कम वक्त में टेक्स्ट या इमेज को किसी भी दूसरे मोबाइल नंबर पर डिलीवर कर देता है। यही नहीं यह ऐप सीव्रेâट चैट की सुविधा भी प्रदान करता है।
हरिद्वार निवासी सोनिया अरोड़ा व संदीप अरोड़ा के पुत्र अशेष ने महज १० साल की उम्र में सोशल ऐप बनाकर अपनी प्रतिभा साबित की है। अशेष साफ्टवेयर इंजीनियर बनना चाहता है।
व्हाट्सऐप और अन्य सोशल ऐप को टक्कर देती इस ऐप को उसने ड्राइक नाम दिया है। अशेष ने बताया कि ड्राइक विशुद्ध रूप से भारतीय ऐप है। गूगल प्ले स्टोर में उपलब्ध १३ एमबी के इस ऐप को कोई भी निशुल्क डाउनलोड कर सकता है।