विश्व संस्कृति महोत्सव में न पहुंचने पर हेमा मालिनी को मलाल


नई दिल्ली। बॉलीवुड अभिनेत्री और मथुरा से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सांसद हेमा मालिनी ने दिल्ली में चल रहे विश्व संस्कृति महोत्सव के जरिए दुनिया की सभी संस्कृतियों को जोड़ने की कोशिश करने के लिए आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर की सराहना की। उन्हें इसमें न पहुंच पाने का मलाल भी है। हेमा ने एक ट्वीट में कहा कि तीन दिन के दौरान एक विशाल कार्यक्रम में विश्व की सभी संस्कृतियों को एकजुट करने की इस अद्भुत कोशिश के लिए श्री श्री रवि शंकर को सलाम। उन्होंने राजधानी दिल्ली में यमुना बाढ़ क्षेत्र में आयोजित कराए जा रहे विश्व संस्कृति महोत्सव में शिरकत न कर पाने पर अफसोस जताया। हेमा ने कहा, मुझे बहुत मलाल है। मैं जबर्दस्त ट्रैफिक जाम की वजह से विश्व संस्कृति महोत्सव में शामिल नहीं हो सकी। कितनी अद्भुत पहल है। ऐसी पहल पहले कभी नहीं की गई। विश्व संस्कृति महोत्सव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस सहित भाजपा के कई नेता उपस्थिति दर्ज करा चुके हैं।