वाई-फाई और एटीएम होगा एनडीएमसी के स्मार्ट टॉयलेट में


– रफी मार्ग पर बनाया जाएगा पहला स्मार्ट टॉयलेट
नई दिल्ली। नगर पालिका परिषद (एनडीएमसी) ने क्षेत्र में सार्वजनिक सुविधाओं को अत्याधुनिक बनाने की योजना बनाई है। इसके तहत ऐसे स्मार्ट टॉयलेट बनाए जाएंगे, जिनमें वाई-फाई, एटीएम, वाटर एटीएम और छत पर सौर ऊर्जा के पैनल होंगे। इस तरह का पहला स्मार्ट टॉयलेट रफी मार्ग पर बनाया जाएगा। इसे अप्रैल तक पूरा कर लिया जाएगा। हाल ही में एनडीएमसी ने अपने क्षेत्र की सार्वजनिक सुविधाओं को और ज्यादा सुविधाजनक और उपयोगी बनाने के लिए लोगों से सुझाव मांगे थे। इसके लिए खुली प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था। परामर्शदात्री संस्थाओं, वास्तुविद फर्मो, छात्रों आदि से स्मार्ट टॉयलेट का डिजाइन तैयार करने को कहा गया था। साथ ही इसमें अपारंपरिक ऊर्जा के स्नेत, डिजिटल डिस्प्ले पैनल, एटीएम आदि का प्रावधान करने की बात कही गई थी।
एनडीएमसी प्रमुख नरेश कुमार ने बताया कि प्रतियोगिता के जरिए मिले तीन डिजाइनों को चुन लिया गया है। इनमें प्रथम विजेता को एक लाख रुपए, द्वितीय को पचास हजार रुपए और तृतीय स्थान पर रहने वाले को पच्चीस हजार रुपए का इनाम दिया जाएगा। इसके साथ ही स्मार्ट टॉयलेट के निर्माण की तरफ भी कदम बढ़ाया गया है। रफी मार्ग पर इस तरह का पहला टॉयलेट अप्रैल तक तैयार किया जाएगा। भारत सरकार ने स्वच्छ भारत मिशन के तहत शहरों की स्वच्छता रैंिंकग का सर्वे शुरू किया है। मंगलवार को एनडीएमसी क्षेत्र में भी इस सर्वे की शुरुआत की गई। केन्द्र ने कुल ७५ शहरों को इस सर्वे के लिए चुना है। पिछले साल दिल्ली में सबसे स्वच्छ क्षेत्र दिल्ली छावनी परिषद को व दूसरे नंबर पर एनडीएमसी को रखा गया था।