मुस्लिम, ब्राह्मण वोटरों के साथ ठाकुर कांग्रेस के निशाने पर


नई दिल्ली। कांग्रेस की नजर में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव नाक का विषय बन गया है। उसकी तरफ से बहुत पहले ही रणनीति बनाने के लिए प्रशांत किशोर को उतार दिया गया था। अब रणनीति तैयार है और वह धीरे-धीरे सामने आने लगी है। अब तक हुए पैâसलों से यह साफ है कि कांग्रेस की नजर मुस्लिम, ब्राह्मण के साथ ठाकुर वोटरों पर नजरें हैं।
जानकारी के अनुसार शीला दीक्षित के सीएम उम्मीदवार घोषणा के बाद एक बात साफ हो चुकी है कि कांग्रेस अब बैकपुâट नहीं प्रंâट में आकर मौर्चा संभालेगी। शीला दीक्षित के रूप में उसने चुनाव में ब्राह्मण चेहरा सामने किश्स है। तीन बार दिल्ली की सीएम रह चुकीं शीला दीक्षित एक अच्छी प्रशासक मानी जाती हैं। बतौर मुख्यमंत्री उन्होंने दिल्ली का कायापलट करने का काम किया। उधर राजब्बर को यूपी कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया गया है। राजब्बर भी मशहूर अभिनेता रह चुके हैं। कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव में डॉ संजय िंसह को यूपी कांग्रेस प्रचार समिति की कमान सौंपी है। संजय िंसह ठाकुर जाति से आते हैं। यूपी चुनाव में ठाकुर की संख्या हमेशा से राजनीति को प्रभावित करते आयी है। अन्य ठाकुर नेताओं में आर पी एन िंसह शामिल है। ब्राहम्णों के अलावा पार्टी की नजर अल्पसंख्यक वोटों पर भी है। जफर अली नकवी को संयोजक बनाया गया है। लिहाजा प्रशांत किशोर की नजर मुसलिम वोटों पर भी है। प्रशांत किशोर ने बिहार में दो ध्रुव के नेता लालू और नीतीश के साथ मिलकर चुनाव लड़ी थी और ऐतिहासिक जीत दिलवायी।