मुंबई के निगम स्कूलों में होगी `भगवद्गीता’ की पढ़ाई


मुंबई। र्आिथक राजधानी कहे जाने वाले शहर मुंबई और उपनगर में निगम के सभी स्वूâलों में छात्रों के ज्ञान को बढ़ाने के लिए अब भगवद्गीता पढ़ाई जाएगी। बृहन्मुंबई महानगरपालिका (एमसीजीएम) के निगम उपायुक्त रामदास भाउसाहेब ने बताया कि हम छात्रों को स्वतंत्र बनाने और पैâसला लेने की उनकी क्षमता को और धार देने के लिए उन्हें भगवद्गीता की जानकारी देंगे। इंटरनेशनल सोसाइटी फॉर कृष्णा कॉन्शसनेस (इस्कॉन) की ओर से १५ मार्च को आयोजित `गीता चैंपियन लीग’ प्रतिस्पर्धा के पुरस्कार वितरण समारोह में उन्होंने यह बात कही। उन्होेंने बाताया कि एमसीजीएम के अंतर्गत १,२०० स्वूâल हैं और कुल ४,७८,००० छात्र हैं। कुल ३,५०० करोड़ रुपये से ज्यादा की लागत से नौ क्षेत्रीय भाषाओं में बच्चों को नि:शुल्क शिक्षा दी जाती है।