ब्रहमा नये मुख्य चुनाव आयुक्त नियुक्त, आज संभालेंगे प्रभार


नई दिल्ली। असम से आईएएस एचसस. ब्रह्मा को नए मुख्य चुनाव आयुक्त के रूप में नियुक्त किया है। पूर्व आयुक्त वीएस.संपत आज रिटायर हो गए है। बताया जा रहा है कि ब्रह्मा की नियुक्ति को राष्ट्र्रपति प्रणब मुखर्जी ने हरी झंड़ी दे दी है। इससे पहले केन्द्र सरकार को कानून मंत्रालय ने पहले सिफारिश की गई थी, कि अगर ब्रह्मा का प्रमोशन हो तो यह सबसे सीनियर चुनाव आयुक्त को सीईसी नियुक्त करने की परंपरा की तर्ज पर कराया जाऐगा। चुनाव आयुक्त एचएस ब्रह्मा आंध्र प्रदेश कैडर के १९७५ बैच के आईएएस अधिकारी हैं। असम के रहने वाले एचएस ब्रह्मा का कार्यकाल १९ अप्रैल तक तीन महीने से कुछ अधिक समय का होगा, जब वह ६५ साल के हो जाएंगे। संविधान के अनुसार, मुख्य चुनाव आयुक्त के लिए अधिकतम उम्र सीमा ६५ साल है।
संपत अपने ६ साल से कुछ कम के घटनाओं से भरे कार्यकाल में कभी कभार ही वह विवादों में फंसे। इस दौरान दो लोकसभा चुनाव और सभी राज्यों में कम से कम एक बार विधानसभा चुनाव भी हुआ। चाहे आईएएस में हों या आयोग में, हमेशा लो प्रोफाइल रहने वाले वीरावल्लीr सुंदरम संपत गुरुवार को ६५ साल के हो रहे हैं। संविधान के तहत इस पद के लिए यह निर्धारित ऊपरी आयु सीमा है। मार्च २००९ में ५ चरण में होने वाले लोकसभा चुनाव के अंत में आयुक्त का पदभार ग्रहण करने वाले संपत पिछले साल मई में आम चुनाव संपन्न होने के बाद सीईसी के तौर पर पदमुक्त हो रहे हैं। उनके इस कार्यकाल में पिछले दिसंबर में जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव हुआ जहां सर्द मौसम और आतंकी खतरे के बावजूद रिकॉर्ड वोटिंग दर्ज हुई। वहीं मुख्य चुनाव आयुक्त के लिए संभावितों में एचएस ब्रह्मा अभी चुनाव आयुक्त हैं सरकार उन्हें अगला मुख्य चुनाव आयुक्त नियुक्त कर सकती है।