बिहार से सीखा सबक, बंगाल चुनाव में पीएम की रैलियां होंगी कम


नई दिल्ली । भाजपा की प्रतिष्ठा प्रश्न बन चुका बिहार चुनाव हारने के बाद अब पार्टी ने बड़ा सबक सीखा है। इस सबक के चलते अब पार्टी ने पाqश्चम बंगाल में होने वाले विधानसभा चुनाव में पीएम मोदी को उपयोग सीमित करने का निर्णय लिया है।
खबरों के अनुसार भाजपा बंगाल के दंगल में २९४ सीटों पर चुनाव लड़ सकती है लेकिन जहां तक इन सीटों पर चुनाव प्रचार की बात है तो इस में पीएम मोदी के चेहरे का उपयोग तब ही किया जाएगा जब चुनाव का सुरुर चरम पर होगा।
हालांकि, पाqश्चम बंगाल में भाजपा बहुमत की बजाय लोकसभा में मोदी लहर के चलते मिले अपने वोट प्रतिशत को बढ़ाने की कोशिश में रहेगी। जानकारी के अनुसार चुनाव में भाजपा वर्तमान सरकार के खिलाफ कुछ अहम मुद्दों लेकर चुनाव लड़ेगी जिनमें भ्रष्टाचार, अपराध और राजनीति ाqस्थति अहम होंगे।
हालांकि, भाजपा के पास राज्य में कोई ऐसा चेहरा नहीं है जिसके दम पर चुनाव लड़ा जा सके लेकिन पार्टी को उम्मीद है कि भ्रष्टाचार को मुद्दा अहम होगा और आने वाले दिनों में चिटपंâड स्वैâम को लेकर सीबीआई के छापे फायदेमंद होंगे। इसके अलावा मोदी सरकार द्वारा नेताजी से जुड़ी फाइलें सार्वजनिक करने की बात को अपने पक्ष में गिन रही है।
भाजपा नेता सिद्धार्थ नाथ िंसह ने कहा कि हमारी वैâम्पेन मुख्य रूप से एंटीइन्कम्बेसी पैâक्टर को हाईलाइट करेगी।