बादलों के ताऊ मोदी से भी नहीं डरता-केजरीवाल


मुक्तसर । दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मकर संक्रांति पर्व से पंजाब में २०१७ में होने वाले विधानसभा चुनाव का शंखनाद कर दिया है। मुक्तसर की रैली पर अकाली दल और बादल परिवार की सरपरस्ती में हो रहे भ्रष्टाचार, नशाखोरी किसानों की आत्महत्या और रिश्वतखोरी पर बादल परिवार पर सीधा निशाना साधा।
केजरीवाल ने कहा कि यदि जरूरत पड़ी तो पंजाब के लिए शहीद होने को भी तैयार हूं। उन्होंने बादल परिवार को सीधे चुनौती देते हुए कहा कि वह बादलों के ताऊ मोदी से भी नही डरे तो अब बादलों से क्या डरुंगा।
बहरहाल, अरविंद केजरीवाल पंजाब में जिस तरह बादल परिवार के अवैध कामों को लेकर आक्रमक तेवर दिखाये हंै। उससे पंजाब में राजनैतिक सरगर्मी बढ़ गई है। २०१७ के प्रारंभ में पंजाब में चुनाव होना है। आम आदमी पार्टी ने दिल्ली के बाद पंजाब के गढ़ को जीतने का अभियान शुरू कर दिया है। इसके लिए आम आदमी पार्टी के नेताओं के आक्रमक तेवरों से पंजाब की जनता में नई चेतना देखने को मिल रही है। केजरीवाल की सभा में भारी भीड़ जुटने से पंजाब सरकार सर्दी में गर्मी का अहसास होने लगा है।