पाक जासूस एजाज का फर्जी हस्ताक्षरयुक्त आधार कार्ड


बरेली। आधार कार्ड को लेकर पाकिस्तानी जासूस एजाज ने चौकाने वाला खुलासा हुआ है। फरीदपुर के एक राजपत्रित अधिकारी के फर्जी हस्ताक्षर और मोहर से कागजों का सत्यापन किया गया। उसके बाद फरीदपुर तहसील में लगे वैंâप में एजाज और उसकी पत्नी का आधार कार्ड बरेली के पते पर बना था। यह खुलासा होने के बाद हड़वंâप मचा हुआ है। एजाज ने फरीदपुर से ही वोटर आईडी कार्ड बनवाने के लिए भी आवेदन किया था। जासूस एजाज उर्पâ कलाम के मेरठ में पकड़े जाने के बाद पुलिस ने जांच शुरू की। वह दीवानखाना में पत्नी आशमां के साथ रहता था। आशमां ने फर्रखपुर के एक फोटोग्राफर के जरिए फरीदपुर के वैंâप में आधार कार्ड बनाए जाने का खुलासा किया। इसके बाद खूफिया विभाग की टीमें अलर्ट हो गर्इं और उन्होंने आधार कार्ड मामले में जांच शुरू की।
९ दिसम्बर को खूफिया विभाग की टीम तहसील पहुंची तो जानकारी मिली कि जिस आधार कार्ड वैंâप में एजाज का आधार कार्ड बनाया गया था, उस वंâपनी का अनुबंध कई महीने पहले खत्म हो गया। अब खुफिया टीमों की जांच में नया खुलासा हुआ है। सूत्रों के मुताबिक तहसील के एक प्राइवेट कर्मचारी ने फरीदपुर के एक राजपत्रित अधिकारी के फर्जी हस्ताक्षर बनाकर एजाज के दीवानखाना के पते का सत्यापन किया। उसके बाद तहसील में लगे एक वंâपनी के वैंâप में आधार कार्ड बनाया गया। खुफिया विभाग की टीम ने राजपत्रित अधिकारी से पते का सत्यापन के बारे में पूछताछ की तो उसने फर्जी हस्ताक्षर और मोहर लगाए जाने की पुाqष्ट की। उसका कहना था कि उसने कागजों का सत्यापन किया ही नहीं है। खूफिया विभाग ने जांच रिपोर्ट अफसरों को सौंप दी है।