पंजाब में ‘आप’ के स्टार प्रचारक हो सकते हैं सिद्धू


चंडीगढ़। नवजोत सिंह सिद्धू और अरविंद केजरीवाल ने पंजाब में अपने अगले कदम पर अभी पत्ते नहीं खोले हैं, हालांकि ये संकेत मिल रहे हैं कि सिद्धू और उनकी पत्नी नवजोत कौर जल्द ही आप में शामिल हो सकते हैं।

सिद्धू ने मीडिया से खुद को दूर रखा जबकि उनकी पत्नी ने कहा कि राज्यसभा से मंगलवार को उनके इस्तीफे का यह मतलब है कि उन्होंने भाजपा भी छोड़ दी है और उनके लिए अब एकमात्र विकल्प आप में शामिल होना है।

सिद्धू के फैसले को साहसिक बताने वाले केजरीवाल ने मंगलवार को कहा कि पंजाब में उनका आप का चेहरा बनने की बात करना अभी जल्दबाजी होगी।

सिद्धू को पंजाब में आप का मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनाने की संभावना के बारे में केजरीवाल ने कहा, ऐसा कुछ नहीं है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा, उन्होंने अभी-अभी राज्यसभा से इस्तीफा दिया है और मेरा मानना है कि सभी अच्छे लोगों को भाजपा से इस्तीफा दे देना चाहिए। मैं उनके साहस की प्रशंसा करता हूं। जब उन्हें याद दिलाया गया कि सिद्धू पहले उनकी आलोचना करते थे तो केजरीवाल ने कहा, वह कोई मुद्दा नहीं है। लेकिन जो भी आप में आएगा उसे पहले आम आदमी बनना होगा।यह पूछे जाने पर यदि सिद्धू आप में शामिल होना चाहें तो क्या होगा। केजरीवाल ने उन्हें एक बढ़िया आदमी बताते हुए कहा कि निश्चित तौर पर पार्टी इस पर विचार करेगी। आप सूत्रों ने बताया कि सिद्धू और कौर एक हफ्ते के अंदर पार्टी में शामिल होंगे। उन्होंने संकेत दिया कि वह मुख्यमंत्री पद का चेहरा नहीं हो सकते हैं लेकिन अगले साल होने वाले पंजाब विधानसभा चुनाव में मुख्य प्रचारक हो सकते हैं।

चंडीगढ़ में संवाददाताओं से बात करते हुए कौर ने कहा कि सिद्धू के अपने फैसले से पलटने का कोई सवाल ही नहीं उठता। अमृतसर पूर्वी सीट से विधायक और शिअद-भाजपा सरकार में मुख्य संसदीय सचिव (स्वास्थ्य) कौर ने कहा, मुझे लगता है कि उन्होंने (सिद्धू) बहुत स्पष्ट रूप से कहा है कि वह क्या करने जा रहे हैं और आने वाले दिनों में उन्हें इसके (भविष्य की योजनाओं) साथ आने दीजिए। उन्होंने कहा है कि वह पंजाब की सेवा करना चाहते हैं और आम आदमी पार्टी से सेवा करने के अलावा कोई विकल्प नहीं है। यह पूछे जाने पर भाजपा में उनके पति की अब क्या स्थिति है, कौर ने कहा, समझा जाता है कि यदि उन्होंने राज्य सभा छोड़ दी है तो उन्होंने भाजपा भी छोड़ दी है। उनके वापस जाने का कोई सवाल नहीं है। अपने कहे पर वह कभी पीछे नहीं मुड़े हैं।