नेताजी की जयंती के दिन हमले की आशंका


कोलकाता । २३ जनवरी को नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती के दिन ही देश के २३ स्थानों पर आतंकी हमले की आशंका जताई गई है। यह हमला चार आतंकी संगठनों की ओर से होने की आशंका जताई गई है। आत्मघाती हमले से लेकर बम विस्फोट तक की घटना को अंजाम दिया जा सकता है।
आतंकी संगठनों के निशाने पर पाqश्चम बंगाल भी है। इस बाबत वेंâद्रीय गृह मंत्रालय के अधीन इंटेलीजेंस ब्यूरो (आईबी) की ओर से राज्य सरकार को सतर्वâ किया गया है। आइबी रिपोर्ट में कहा गया है कि चार आतंकी संगठनों ने देश में हमले की साजिश रची है। इस में जैस ए मोहम्मद, लश्कर-ए-तैयबा, इंडियन मुजाहिदीन और बांग्लादेश के आतंकी संगठन हिजबुल तेहरीर के आतंकी शामिल हैं।
आईबी सूत्रों के मुताबिक आतंकियों के निशाने पर पाqश्चम बंगाल के प्रसिद्ध दक्षिणेश्वर काली मंदिर के अलावा एक व्यस्त सेतु भी है। यह सेतु संभवत? नैहाटी का जुबली ब्रिज हो सकता है। इसे लेकर राज्य पुलिस के अलावा बीएसएफ, कोस्ट गार्ड व सीआइएसएफ को भी सतर्वâ किया गया है।
राज्य सचिवालय के सूत्रों के अनुसार गृह मंत्रालय की चेतावनी मिलने के तत्काल बाद से ही सुरक्षा बढ़ाने का निर्देश दिया गया है। खासकर दक्षिणेश्वर काली मंदिर समेत अन्य महत्वपूर्ण स्थानों की सुरक्षा बेहद पुख्ता कर दी गई है।