धूप में भूख हड़ताल से रंग दबेगा,शादी में परेशानी आएगी : सीएम लक्ष्मीकांत


० सीएम की टिप्पणी से क्षुब्ध आंदोलनरत स्वास्थ्यकर्मी
पणजी । विभिन्न मांगो को लेकर आंदोलनरत नर्से और १०८ एम्बूलेंस कर्मी गोवा के मुख्यमंत्री लक्ष्मीकांत पारसेकर द्वारा महिलाओं पर की गई कथित टिप्पणी को लेकर क्षुब्ध हैं। उन्होंने आरोप लगाया है कि मंगलवार को मुख्यमंत्री ने उन्हें धूप में रहकर भूख हड़ताल न करने की सलाह दी है अन्यथा रंग दबने से विवाह में बाधा आयेगी। अनुशा सावंत नामक एक नर्स ने बताया, कि अपनी मांगों को लेकर पांडा में मंगलवार को जब हम मुख्यमंत्री से मिले तो उन्होंने कहा कि हमें धूप में बैठकर भूख हड़ताल नहीं करनी चाहिए। इससे आप लोगों का रंग दब जाएगा और उन्हें एक अच्छा पति नहीं मिल पाएगा। सावंत ने कहा,ऐसी टिप्पणी अनुचित है। हम मुख्यमंत्री से अपनी मांगों को लेकर मिले थे। हालांकि टिप्पणी के लिए पारसेकर उपलब्ध नहीं थे। मुख्यमंत्री कार्यालय के बयान में कहा गया है, ‘ऐसी किसी टिप्पणी के बारे में जानकारी नहीं है, लेकिन हमें नहीं लगता है कि मुख्यमंत्री ऐसी टिप्पणी करेंगे। गोवा में गत कुछ दिनों से नर्सें और १०८ एंबुलेंस सेवा से जुड़े कर्मी भूख हड़ताल पर हैं।