देश के 69एनजीओ को सरकार ने किया ब्लैकलिस्ट


नई दिल्ली। सरकार ने विदेशों से पंâड लेने एवं पैसों का निजी हितों में उपयोग करने के कारण ६९ एनजीओ को ब्लैकलिस्ट किया है।जबकि इन एनजीओ के विदेश से पंâड लेने की अनुमति नही थी। यह जानकारी मंगलवार को गृह राज्य मंत्री किरण रिजीजू ने लोकसभा में दी। उन्होंने कहा कि यह कार्रवाई उन एनजीओ पर की गई हैं, जिन्हें विदेशों से पंâड लेने की अनुमति नहीं थी। ब्लैकलिस्ट किए गए एनजीओ में आंध्र प्रदेश के १४, तमिलनाडु के १२, गुजरात और ओडिशा के पांच, यूपी, जम्मू-कश्मीर और केरल के चार-चार व दिल्ली के तीन एनजीओ शामिल हैं।सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मोदी सरकार ने जुलाई २०१४ में इंटेलिजेंस ब्यूरो से मिली रिपोर्ट के बाद उन एनजीओ के पंâड्स पर नजर रखनी शुरू की थी, जोकि विदेशी पंâड लेते थे। इसके अलावा सरकार ने ग्रीन पीस इंटरनेशनल और क्लाइमेट वक्र्स फाउंडेशन पर भी नजर रखी। इसके साथ ही सरकार ने उनके लिए भारत में किसी भी तरह का पंâड लेने से पहले गृह मंत्रालय से उसकी अनुमति लेना अनिवार्य कर दिया है। आईबी की रिपोर्ट में विदेशी पंâड लेने वाले एनजीओ पर आरोप लगाया है विकास योजनाओं के खिलाफ प्रदर्शन करने वाले इन एनजीओ की वजह से भारत की जीडीपी को दो से तीन प्रतिशत का नुकसान हुआ हैै।