दिल्ली पुलिस ‘लिम्का बुक ऑफ रिकाड्र्स’ में दर्ज


नयी दिल्ली । राजधानी दिल्ली पुलिस का नाम लिम्का बुक ऑफ रिकॉड्र्स में दर्ज किया गया है। नवम्बर २०१५ में हुए भारत के सबसे बड़े नकदी लूट कांड को सुलझाने के लिए दिल्ली पुलिस को लिम्बा बुक में में जगह दी गई है। बैंक के एटीएम के लिए नकदी ले जाने वाले वाहन का चालक २७ नवम्बर २०१५ को साढ़े बाईस करोड़ रूपये के साथ कथित तौर पर फरार हो गया, जिसके बाद दक्षिण पाqश्चम जिले की पूरी पुलिस सतर्वâ हो गई। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि दस घंटे से भी कम समय में पुलिस ने चालक का पता लगा लिया और १० हजार ५०० रूपये को छोड़कर चोरी की पूरी राशि बरामद कर ली। आरोपी चालक ने साढ़े दस हजार रूपये भोजन, शराब और कुछ अन्य सामान पर खर्च कर दिए थे। रविवार सुबह हुए सम्मान समारोह के बाद दिल्ली पुलिस कमिश्नर बी. एस. बस्सी ने माइक्रो ब्लॉगिंग साईट ट्वीटर पर लिखा कि `भारत के सबसे ज्यादा नकदी २२.४९ करोड़ रूपये की लूट कांड को सुलझाने के लिए दिल्ली पुलिस का नाम लिम्का बुक ऑफ रिकाड्र्स में दर्ज हुआ।’