दयाशंकर की पत्नी को भाजपा दे सकती है टिकट


लखनऊ। उत्तरप्रदेश भाजपा के उपाध्यक्ष दयाशंकर िंसह की पत्नी को अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में टिकट देने का मन बना लिया हैं। बसपा सुप्रीमो मायावती के खिलाफ विवादित टिप्पणी करने के बाद भले ही पार्टी ने दयाशंकर िंसह को पार्टी से अगले छह साल के लिए पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया है। लेकिन उनकी पत्नी को पार्टी अगले चुनाव में टिकट देने का मन बना रही है। अंदरुनी सूत्रों की माने तो जिस तरह से दयाशंकर िंसह की पत्नी स्वाति िंसह ने उनके पति के खिलाफ बसपा द्वारा प्रदर्शन और विवादित नारेबाजी का खुलकर विरोध किया और मायावती के खिलाफ एफआईआर तक दर्ज कराई हैं। स्वाति िंसह के इसी आक्रमक तेवर को देखते हुए भाजपा उन्हें टिकट देने का मन बना रही है। पार्टी के सूत्रों का कहना है कि जिस तरह से बसपा ने दयाशंकर िंसह को मंच से कुत्ता कहकर बुलाया और दयाशंकर की बेटी, पत्नी और बहन को पेश किये जाने की मांग की उस पर स्वाति िंसह ने सामने आकर हिम्मत दिखाई। जिसके कारण भाजपा के खिलाफ बसपा का पूरा प्रदर्शन उल्टा पड़ गया। दयाशंकर िंसह लंबे समय से पुलिस से बचते फिर रहे हैं, लेकिन उन्होंने मीडिया के हवाले से कहा कि वह बहन जी से मांफी मांगते हैं लेकिन वह टिकट बेचती हैं। न्होंने कहा कि मेरी गलती की सजा मेरे परिवार को क्यों दी जा रही है। आपको बता दें कि लखनऊ के हजरतगंज में जिस तरह से बसपा ने प्रदर्शन किया था और घंटों शहर को जाम कर दिया था उसके खिलाफ लखनऊ के डीएम राजशेखर ने एफआईआर दर्ज करा दी है।