त्रिपुरा में बर्ड फ्लू, आठ हजार पक्षियों को मारने का काम शुरू


अगरतला । त्रिपुरा में एक बार फिर बर्ड फ्लू के मामले सामने आए हैं। इसके बाद राज्य के पाqश्चमी हिस्से में शनिवार से करीब आठ हजार र्मुिगयों और बत्तखों को मारने का काम शुरू किया गया।
राज्य के पशु संसाधन विकास विभाग के निदेशक मनोरंजन सरकार ने बताया कि गांधीग्राम के सरकारी पशु फार्म में यह शुरू किया गया। कर्मचारियों से जल्द से जल्द इस काम को पूरा करने को कहा गया है।
उन्होंने बताया कि कुछ र्मुिगयों, बत्तखों और पक्षियों की मौत के बाद राज्य और राज्य के बाहर विभिन्न प्रयोगशालाओं में पक्षियों के सैम्पल भेजे गए। भोपाल की प्रयोगशाला से फार्म के पक्षियों में एवियन इनफ्लूएंजा की पुाqष्ट हुई।इसके बाद पक्षियों को मारने और अंडों को नष्ट करने का पैâसला लिया गया ताकि इसके प्रसार को रोका जा सके।
संक्रमण वाले स्थान से एक किलोमीटर की परिधि में और आसपास के गांवों में र्मुिगयों और पॉल्ट्री पक्षियों को मारने काम किया जाएगा। अप्रैल और मई २००८ में त्रिपुरा पहली बार बर्ड फ्लू से प्रभावित हुआ था। तीन साल बाद वहां यह फिर सामने आया।