तमिलनाडु में 3 छात्राओं की आत्महत्या


चेन्नई  हैदराबाद के छात्र की आत्महत्या का मामला गरम है और उधर तमिलनाडु के विल्लूपुरम के पास एसवीएस मेडिकल कॉलेज ऑफ नेचुरोपैथी एंड योगा साइंसेस की तीन छात्राओं के आत्महत्या करने की घटना ने विपक्ष को नया मुद्दा उपलब्ध करा दिया है. तीनों छात्राओं के नाम ई सारान्या, वी प्रियंका और टी मोनिषा बताये गए हैं.
पुलिस को इस मामले में दो पेज का एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है. इसमें मृत छात्राओं ने इस कदम के लिए मेडिकल कॉलेज के मैनेजमेंट और चेयरमैन वासुकी सुब्रमण्यम को दोषी ठहराया है. सुसाइड नोट में छात्राओं ने कॉलेज बढ़ी हुई फीस और कथित ज्यादती को आत्महत्या के लिए जिम्मेदार बताया गया है.
अपने सुसाइड नोट में लड़कियों ने लिखा है कि ‘हमें इस बात कि उम्मीद है कि हमारे आत्महत्या के बाद सरकार और प्रशासन कॉलेज प्रबंधन के खिलाफ एक्शन लेगा’.इस मेडिकल कॉलेज ने पिछले दिनों फीस बढ़ा दिया था. जिसको लेकर यहां काफी विवाद चल रहा था. मृत छात्राओं के परिवार वालों ने भी कॉलेज प्रशासन पर आरोप लगाया है कि हमारी बेटियों को यहां प्रताड़ित किया जा रहा था.
एक छात्रा के पिता ने कहा कि ये हत्या है, खुदकुशी नहीं. पोस्टमार्टम चेन्नई में कराया जाए, विल्लूपुरम में नहीं. मामले में पुलिस की जांच जारी है, लेकिन फिलहाल कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है. ज्ञात रहे कि इससे पूर्व हैदराबाद सेंट्रल यूनिर्विसटी के छात्र रोहित वेमुला ने हॉस्टल से निलंबन के बाद आत्महत्या कर ली थी.