झारखंड व बिहार का 25 लाख का इनामी नक्सली गिरफ्तार


रांची। रांची पुलिस ने २५ लाख रुपए के इनामी नक्सली शिव प्रसाद िंसह उर्पâ रोहित जी उर्पâ पवन जी उर्पâ रितलाल जी को पिठौरिया घाटी से गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है। वह दस से अधिक नक्सली घटनाओं का मास्टर माइंड रहा है। उसके पास से नक्सली साहित्य भी बरामद हुआ है। बिहार के औरंगाबाद में भी रोहित पर दस लाख रुपए का इनाम घोषित किया है। गुरदारी के चांपी घाटी मुठभेड़ में वह अरिंवद जी के साथ था जिसमें अरिंवद जी को गोली लगी थी।
नक्सली रोहित को पिठौरिया थाना क्षेत्र के पतरातू घाटी ाqस्थत नकारी जंगल के बीच गिरफ्तार किया गया। उस समय वह अपने परिवार से मिलने पतरातू जा रहा था। यह जानकारी एसएसपी प्रभात कुमार ने संवाददाता सम्मलेन में दी। उन्होंने बताया कि पूछताछ के बाद रोहित जी की निशानदेही पर पतरातू, नकारी के जंगलों, बेती जंगल, हरिहर टोली व अन्य स्थानों पर छापामारी की गई। एसएसपी ने बताया कि जहानाबाद के करोना थाना क्षेत्र के शिवनन निवासी नक्सली व सैक सदस्य शिव प्रसाद िंसह उर्पâ रोहित जी उर्पâ पवन जी उर्पâ रितलाल जी वर्ष १९८४ में सीपीआई पार्टी यूनिटी संगठन से जुड़ा था। वर्ष १९९४ में पीडब्ल्यूजी व सीपीआई का विलय हुअ। उस समय किसान संग्राम कमेटी का भी सीपीआई में विलय हुआ थ। जिसमें वह स्टेट कमेटी का सदस्य था। वर्ष २००४ में सीपीआई(माओवादी) के स्पेशल एरिया कमेटी(सैक) के सदस्य के रूप कार्य करने लगा था।रोहित जी कई नक्सली वारदातों में शामिल रहा है। इनमें चैनपुर थाना क्षेत्र में १५ मार्च २०१३ को हुई दो अलग-अलग मुठभेड़, चैनपुर थाना क्षेत्र में सात अप्रैल २०१३ को पुलिस वैंâप पर हमला, गुरदारी थाना क्षेत्र में २१ फरवरी २०१५ को चांपी घाटी मुठभेड़, चैनपुर थाना क्षेत्र में एक मार्च २०१३ को सनईटांगर मुठभेड़ के अलावा सिमडेगा, गुमला, लोहरदगा, लातेहार व अन्य कई जिलों में हुई मुठभेड़ की घटनाएं शामिल हैं।
एसएसपी ने बताया कि रोहित जी को रिमांड पर लेकर पुलिस पूछताछ करेगी। इस दौरान कई घटनाओं का खुलासा होने की संभावना हैं। एसएसपी ने बताया कि इनाम की २५ लाख रुपये की राशि रोहित जी की गिरफ्तारी में शामिल टीम के सदस्यों में बांटी जायेगी।