जदयू बदलेगा चुनाव चिन्ह


पटना । बिहार में सत्ताधारी दल जदयू शीघ्र ही अपना चुनाव चिन्ह बदलेगा। बिहार विधानसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी का रथ रोकने में कामयाब रही पार्टी अब अपना रथ राज्य के बाहर ले जाने की सोच रही है। पार्टी ने इस बात पर गहनता से विचार किया है कि मौजूदा चुनाव चिन्ह मतदाताओं में भ्रम पैदा करता है। पार्टी ने मकर संक्रांति के बाद किसी भी दिन चुनाव आयोग से मुलाकात करने की योजना बनाई है। चुनाव आयोग को पार्टी मौजूदा चिन्ह के स्थान पर अपनी पसंद के चिन्हों की सूची सौंपेगी। गुरुवार को मकर संक्रांति है और माना जा रहा है अगले सप्ताह इस दिशा में पार्टी अपना कदम बढ़ाएगी। पांच राज्यों में होने जा रहे विधानसभा चुनावों को देखते हुए पार्टी चुनाव चिन्ह बदलने के प्रयासों में जुटी है। जदयू के सूत्रों ने कहा कि असम, तमिलनाडु, पुडुचेरी, पाqश्चम बंगाल और केरल में बिहार की तरह महा गठबंधन बनाने योजना बनाई गई है। बिहार में इसी युक्ति से जदयू और उसकी सहयोगी र्पािटयां राजग को समेटने में कामयाब रहीं। सूत्रों ने कहा कि पार्टी पेड़, हल चलाता हुआ किसान और झोपड़ी में से कोई एक चिन्ह पाना चाहती है।