खुले में शौच करने वालों की निगरानी


लखनऊ ।  यूपी में अब खुले में शौच करने वालों की निगरानी की जा रही है. प्रदेश को स्वच्छ बनाने के अभियान में जुटे र्किमयों को शुरुआत में मथुरा को साफ रखने का जिम्मा सौंपा गया है. फिलहाल ये लोग गांवों में जाकर यह पता लगा रहे हैं कि वहां लोग खुले में शौच तो नहीं करते।
स्वच्छता अभियान में यह कवायद जिले के इन डेढ़ दर्जन गांवों को खुले में शौच करने की प्रवृत्ति से मुक्त करने के प्रयासों के तहत की जा रही है। इसीलिए तीन दर्जन अधिकारियों को इस काम में लगाया गया है ।
अब तक जिले के दो गांव पूरी तरह से इस कुप्रथा से मुक्त हो चुके हैं तथा १६ अन्य चयनित गांवों को भी इस कुप्रथा से मुक्त करने के लिए युद्ध स्तर पर प्रयास किए जा रहे हैं। जल्द ही वहां भी सफलता मिल जाएगी। १५ अप्रैल तक इन गांवों को खुले में शौच से मुक्त करा लिया जाएगा और स्वतंत्रता दिवस (१५ अगस्त) तक जिले के १५० गांवों को इस श्रेणी में शामिल कर लेने का लक्ष्य रखा गया है।
सु