केरल : शराब के बदले 101 नए स्वास्थ्यवर्धक पेय


तिरुवनंतपुरम। केरल सरकार ने राज्य में २०२३ तक शराब सेवन पूरी तरह बंद करने के लिए नारियल पानी व अन्य चीजों से बने १०१ किस्म के स्वास्थ्यवर्धक पेय पदार्थो के प्रचार-प्रसार की घोषणा की।
केरल सरकार ने शराब और मादक द्रव्यों के सेवन के खिलाफ ‘सुबोधम’ नामक पहल की शुरुआत की है। इसके तहत स्वास्थ्यवर्धक पेय पदार्थो के सेवन को बढ़ावा दिया जाएगा, जिसे मैजिक िंड्रक्स नाम दिया गया है।
शराब और मादक द्रव्यों के सेवन की रोकथाम के लिए प्रभावी रणनीति (आई-कॉन २०१६) पर चल रही तीन दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी के दौरान बुधवार को आईस टी का वितरण किया गया।
सुबोधम पहल के तहत इन पेय पदार्थो को शराब के विकल्प के बजाए स्वास्थयवर्धक पेय पदार्थ के रूप में प्रस्तुत किया जा रहा है।
इस बारे में यूएसएस ग्लोबल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और अनुभवी शेफ श्रीकांत मनीकोथ ने बताया कि आनेवाले दिनों में और भी स्वास्थ्यवर्धक पेय पदार्थ उपलब्ध कराए जाएंगे। सुबोधम पहल के प्रमुख के. अम्पाडी ने कहा कि वे नारियल पानी, खीरा, पुदीना और दूध इत्यादि पदाथोर्ं से बने १०१ पेय पदार्थ लेकर आ रहे हैं।