कश्मीर में दिखा आईएसआईएस विरोधी पोस्टर


श्रीनगर । जम्मू कश्मीर में ऐसा पहली बार हुआ है जब घाटी में आतंकी संगठन आईएसआईएस के खिलाफ पोस्टर नजर आया। इसको लेकर श्रीनगर में खलबली मची हुई है। शुक्रवार को जुम्मे की नमाज के बाद आईएस के विरोध में पोस्टर नजर आया। हालांकि बाद में सुरक्षा बलों ने इन पोस्टर्स को उतार लिया लेकिन लोग आश्चर्यचकित हैं। पोस्टर पर लिखा था- माqस्जदों को बम से उड़ाना कौन से खुदा का हुक्म है ऐसा कहा जाता है कि श्रीनगर की जामा माqस्जद के सामने तो आईएसआईएस को समर्थन में पोस्टर लगाया जाना तो आम बात है। पहली बार आईएसआईएस विरोधी पोस्टर स्थानीय लड़कों के एक ग्रुप ने लगाया था। इनमें ऊर्दू भाषा नारे लिखे हुए थे। नकाब पहने युवकों के बैनर पर लिखा था- जो खुद को दायश और आईएसआईएस कहता है कि खुदा ने इजरायल के खिलाफ जेहाद का हुक्म नहीं दिया है तो फिर मुाqस्लमों का कत्ल करना, माqस्जदों को बम से उड़ाना कौन से खुदा का हुक्म और जेहाद है। पोस्टर में एक कमांडर कह रहा है-अल्लाह इजरायल के खिलाफ जेहाद का एलान करने के लिए हमें आदेश नहीं देता है। वहीं दूसरी पंक्ति में जवाब लिखा है- फिर क्या अल्लाह माqस्जद पर ब्लास्ट करने का आदेश देता है?
जुम्मे की नमाज पढ़ने आए लोग इस नजारों को दिखकर हैरान रह गए क्योंकि यहां प्रदर्शन के दौरान अक्सर आईएस के समर्थन में पोस्टर और झंडे लगाए जाते रहे हैं। कई लोग इसे कश्मीर में लोगों की सोच में आए बदलाव से भी जोड़कर देख रहे हैं। कश्मीर में आए दिन आईएस और पाकिस्तान के झंडे दिखाए जाते हैं। ऐसे में इसके विरोध में पोस्टर का दिखाया जाना बहुत बड़ी बात है।