कर्ज के लिए किसान ने बच्चों को 35 हजार रु किराए पर दिया


भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज िंसह चौहान किसानों की हर परेशानी में साथ देने का दावा करते हैं लेकिन हकीकत इससे काफी अलग है। प्रदेश के हरदा जिले में कर्ज चुकाने के लिए एक किसान परिवार के अपने दो बच्चों को १ साल के लिए किराए पर देने का मामला सामने आया है। किसानी का कर्ज चुकाने के लिए लाल िंसह नामक शख्स ने अपने ११ और १३ साल के बच्चे को भेड़ चराने के लिए महज ३५ हजार रुपये में बेच दिया था। दोनों बच्चे लावारिस हालत में बुधवार को चाइल्ड लाइन के संपर्वâ में आए, जिसके बाद पूरे मामले की असलियत सामने आई। इन दोनों बच्चों को बंधक बनाकर ज्यादा काम करवाने का भी आरोप है। रुपयों की तंगी के चलते लाल िंसह ने अपने एक बेटे को २० हजार रुपये और दूसरे को १५ हजार में बेच दिया। प्रशासन ने मामले की जानकारी मिलते ही जांच के आदेश दे दिए हैं।
० अब याद आते बच्चे
बच्चों के पिता लालिंसह भिलाला का कहना है कि १२ महीने के लिए ३५ हजार में गिरवी रख दिए थे। ८ से १५ दिन में हम लोग बच्चों से मिलने जाते हैं। नौ महीने से बच्चे घर से बाहर हैं। हमारे पास फसल नहीं थी तो बच्चों को १ साल के लिए किराए पर दे दिया। हमरे पर एक लाख रुपये का कर्ज है। बच्चों की याद आती है, पर कोई उपाय नहीं था।