कन्या बचाने नकद प्रोत्साहन राशि देगी असम सरकार


गुवाहाटी । असम के मुख्यमंत्री तरूण गोगोई ने गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले (बीपीएल) परिवार की महिलाओं को कन्या (लड़की) के जन्म देने पर नकद प्रोत्साहन राशि देने की घोषणा की है। उनके द्वारा यह घोषणा अभी हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओं की अपील करने के बाद की है। गोगोई ने बताया कि दो मार्च से शुरू होने वाले विधानसभा सत्र के बजट सत्र में सरकार नयी योजना की शुरूआत करेगी। गोगोई ने बताया क हम बच्ची को जन्म देने वाली बीपीएल परिवार की महिला को ५००० रूपये की राशि उपलब्ध कराएंगे। ताकि नवजात कन्या का अच्छे से पालन-पोषण किया जा सके। राज्य में पहले से ही लिंग की परवाह किए बगैर बच्चों के जन्म देने पर ५००० रूपये के फिक्स डिपाजिट दिए जाने की योजना है। देश में प्रति एक हजार ० से ६ वर्ष के लड़कों की तुलना में लड़कियों की संख्या लगातार घट रही है। वर्ष १९९१ की जनगणना के अनुसार प्रति हजार लड़कों की अपेक्षा लड़कियों की संख्या ९४५ थी जोकि २००१ में ९२७ एवं २०११ में ९१९ हो गयी थी।