ओबामा की सिक्यॉरिटी टीम के सुझाव को भारत ने नकारा


नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा की सिक्यॉरिटी टीम के एक सुझाव को भारत ने नकार दिया है। ओबामा की सिक्यॉरिटी टीम ने २६ जनवरी को राजपथ के आस-पास के ५ किलोमीटर के दायरे को नो-फ्लाइंग जोन बनाने का सुझाव दिया था। गणतंत्र दिवस के मौके पर राजपथ पर परंपरागत तौर से झांकी, परेड के साथ-साथ फ्लाइ-पास्ट भी होता आया है। नो-फ्लाइंग जोन बनाने का मतलब है फ्लाइ-पास्ट का वैंâसल होना। इसी कारण से ओबामा की सिक्यॉरिटी टीम को कह दिया गया कि यह संभव ही नहीं है।
भारतीय सुरक्षा एजेंसी के सूत्रों की मानें तो अभी भी ओबामा की सिक्यॉरिटी टीम सिविल एविएशन विभाग से इस मामले में संपर्वâ साधे हुए है लेकिन इंडियन मिलिटरी के अधिकारियों ने इसे सिरे से खारिज कर दिया है।
सूत्रों के मुताबिक इस साल १८ फाइटर जेट, ५ एयरक्राफ्ट और १० हेलीकॉप्टर फ्लाइ-पास्ट में हिस्सा लेंगे। यह जमीन से ६० मीटर से लेकर ३०० मीटर की ऊंचाई पर राजपथ से फ्लाइ-पास्ट करते हुए उड़ेंगे।
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि राजपथ, राष्ट्रपति भवन, नॉर्थ और साउथ ब्लॉक के साथ-साथ प्रधानमंत्री निवास के आस-पास का एरिया २६ जनवरी के कुछ समय (फ्लाइ-पास्ट के कारण) को छोड़कर हमेशा नो-फ्लाइंग जोन रहता है।