एमएसजी की रिलीज पर बढ़ा बवाल, सेंसर बोर्ड की अध्यक्ष लीला का इस्तीफा


नई दिल्ली । डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम की फिल्म ‘एमसजी’ को हरी झंडी दिए जाने से नाराज सेंसर बोर्ड की अध्यक्ष लीला सैमसन ने पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने सूचना प्रसारण मंत्रालय को इस बात की जानकारी दे दी है। एक अंग्रेजी पत्र को ईमेल पर दिए जवाब में उन्होंने इसकी पुाqष्ट की है।
लीला सैमसन ने गैरजरूरी दखल और पैनल के सदस्यों और संस्था के अधिकारियों के भ्रष्टाचार को अपने इस्तीपेâ की मुख्य वजह बताया है। उन्होंने आरोप लगाया है कि सेंसर बोर्ड का मजाक बना दिया गया है और मंत्रालय की ओर से नियुक्त किए गए अधिकारी ही इसे चला रहे हैं। विवादास्पद फिल्म एमएसजी (मैसेंजर आफ गॉड)’ को फिल्म प्रमाणन अपीलीय न्यायाधिकरण (एफसीएटी) ने प्रदर्शन के लिए हरी झंडी दे दी है, जबकि पहले सेंसर बोर्ड ने इसकी इजाजत नहीं दी थी। फिल्म को हरी झंडी के बाद बोर्ड प्रमुख लीला सैमसन ने गुरुवार रात ही इस्तीपेâ का निर्णय कर लिया था।
यह पूछे जाने पर कि क्या उन्हें मीडिया में आई उन खबरों की जानकारी है कि फिल्म को प्रदर्शन के लिए एफसीएटी द्वारा मंजूरी दी जा चुकी है, सैमसन ने कहा, ‘मैंने ऐसा सुना है। अभी तक लिखित में कुछ नहीं है। फिर भी यह फिल्म प्रमाणन बोर्ड का मजाक है। मेरा त्यागपत्र तय है। मैंने (सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय) के सचिव को सूचित कर दिया है।
बहरहाल, एफसीएटी के निर्णय, यदि ऐसा कोइ निर्णय हुआ है तो, को लेकर कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है। सेंसर बोर्ड ने ‘मेसेंजर आफ गॉड’ फिल्म के मुद्दे को एफसीएटी को भेज दिया था।