एक घुड़की में सीधी हुई महबूबा


श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में भाजपा की एक घुड़की से पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने अपने हथियार डाल दिये। उन्होंने दबाव में आकर समझौते के लिए वेंâद्र सरकार से विशेष पैकेज देने की पेशकश कर सरकार बनाने राजी हो गई हैं। सूत्रों के अनुसार वेंâद्र सरकार ने राष्ट्रपति शासन लगाने तथा पीडीपी की राष्ट्रविरोधी गतिविधियों पर कड़ी कार्यवाही करने की बात से महबूबा सहम गई। वेंâद्र सरकार के अक्रामक तेवरों ने महबूबा की सारी अकड़ एक ही झटके में खत्म कर दी। संसद के बजट सत्र के बाद जम्मू कश्मीर में नई सरकार के गठन का रास्ता साफ हो गया है। मुख्यमंत्री पद की दावेदार महबूबा मुफ्ती ने वेंâद्र सरकार के आगे झुकते हुए समझौता की पेशकश कर दी है। वेंâद्र सरकार ने जम्मू कश्मीर के लिए जल्द ही विशेष पैकेज की घोषणा करेगा। वेंâद्र सरकार से पैकेज की मांग करते हुए पीडीपी अध्यक्ष ने कहा कि जम्मू कश्मीर के लोगों को पैकेज देने से नई सरकार के लिए कश्मीर की जनता को राहत पहुंचाकर ही सरकार चलाई जा सकती है। कश्मीर में आये दिन की मुठभेड़ और युवाओं के बंदूक उठाने पर चिंता जाहिर करते हुए उन्होंने कहा कि मुफ्ती साहब के जाने के बाद से कश्मीर में हालत खराब हो गये हैं। उन्होंने कहा कि नई सरकार को ऐसा माहोल बनाना होगा कि कश्मीर का युवा सरकार की ताकत बने।