अमरनाथ यात्रा में खलल डाल सकती है आईएसआई


जम्मू। भारत की प्रतिष्ठित धार्मिक श्री अमरनाथ यात्रा को लेकर बयान आया है। यह बयान जम्मू कश्मीर के उपमुख्यमंत्री डॉक्टर निर्मल सिंह ने जारी किया है। उन्होंने कहा है कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई इस यात्रा में बाधा पैदा कर सकती है। हालांकि उन्होंने आश्वस्त किया है कि सरकार सभी चुनौतियों से निपटने के लिए सक्षम है।
जानकारी के अनुसार अमरनाथ यात्रा दो जुलाई से शुरू हो रही है। उन्होंने कहा है कि पाकिस्तान, राष्ट्र विरोधी ताकतें और आतंकवादी नहीं चाहते कि यात्रा सही ढंग से चले। वे यात्रा को प्रभावित करने के लिए प्रयास जरूर करेंगे, लेकिन सरकार ने हर पहलू पर गौर करते हुए सभी प्रबंध किए हैं। जम्मू के हालात की समीक्षा करने के बाद पत्रकारों से बातचीत में उपमुख्यमंत्री ने कहा कि सेना और सुरक्षाबलों को अलर्ट कर दिया है। हाल ही में जम्मू के रूपनगर और नानक नगर के मंदिरों में हुई तोड़फोड़ की घटनाओं पर उन्होंने कहा कि यहां के माहौल को खराब करने की किसी को इजाजत नहीं दी जाएगी। उन्होंने लोगों से भी सतर्वâ रहने को कहा ताकि भविष्य में ऐसी घटनाएं न हों। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि प्रशासन ने दोनों ही मामलों में तत्काल कार्रवाई करते हुए नापाक मंसूबों को विफल बना दिया। उन्होंने कहा कि यात्रा शुरू होने वाली है और इस समय पर्यटन सीजन भी चल रहा है। ऐसे में यहां के माहौल को खराब करने की साजिश की जा रही है। कई एजेंसियां इस मामले की जांच कर रही हैं और प्रशासन भी पूरी नजर रखे हुए है।