अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर तीस हजार लोग करेंगे मोदी संग योग


चंडीगढ़। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर २१ को चंडीगढ़ में ३० हजार लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ योग करेंगे। इसे लेकर ब्यूरोव्रेâट्स में चल रहा शीत युद्ध आखिरकार इस शर्त के साथ थम गया है कि गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकार्ड का ताज दिल्ली के सिर पर सजा रहेगा, लेकिन दिल्ली से ज्यादा वॉलंटियर्स जुटा कर चंडीगढ़ दिलों पर राज करता रहेगा। इस समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विशेष रूप से शिरकत करेंगे। चंडीगढ़ में कुल २०० स्थानों पर ८० हजार से एक लाख लोगों के पहुंचने की उम्मीद है। आयोजन के लिए नौ करोड़ का बजट रखा है। दिल्ली में पिछले साल हुए पहले अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर ३५,९८५ लोगों ने एक ही स्थान पर योग कर गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड में नाम दर्ज कराया था। इससे पहले ग्वालियर की जीवाजी यूनिर्विसटी ने २९,९७३ वॉलंटियर्स के साथ रिकॉर्ड बनाया था।
चंडीगढ़ में पहले बॉटेनिकल गार्डन में मुख्य समारोह की तैयारी थी। वहां एक साथ ४० हजार लोगों के योग की व्यवस्था की जा सकती थी। इससे दिल्ली का रिकॉर्ड खतरे में था। अब चंडीगढ़ ३० हजार लोग ही योग करेंगे। ऐसे में दिल्ली का रिकॉर्ड तो नहीं टूट पाएगा, लेकिन २०० स्थलों पर ८० हजार से एक लाख लोगों के योग में शामिल से चंडीगढ़ प्रधानमंत्री का दिल जीतने में कामयाब रहेगा। दूसरे अंतरराष्ट्रीय समारोह के लिए भोपाल, दिल्ली के अलावा यूपी के कुछ शहरों सहित छह ऑप्शन दिए थे। चंडीगढ़ के गृह सचिव अनुराग अग्रवाल ने बताया कि मोदी चंडीगढ़ में ही मुख्य आयोजन में करना चाहते थे।
आयोजन में आर्ट ऑफ लििंवग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर के अलावा बाबा रामदेव, बालकृष्ण सहित कई हाqस्तयां ९ से १२ जून तक परेड ग्राउंड में सैकड़ों लोगों को योग की जानकारी देंगे। १२ जून को सेक्टर १७ में मून लाइट योग होगा। मुख्य समारोह में बुड़ैल जेल के वैâदियों व स्पेशल चाइल्ड के ग्रुप को भी योग करेंगे।
योग के लिए जरूरी मैट्स की आर्पूित अभी तक चीन से ही हो रही है। अब अधिकारी भारत में र्नििमत मैट्स के इंतजाम में जुटे हैं। मुख्य स्थल पर ५०-५० वॉलंटियर्स के ग्रुप बनाए जाएंगे। इनका एक ग्रुप लीडर व एक डिप्टी लीडर होगा। १३ को ग्रुप लीडर्स के साथ बैठक की जाएगी।