राहुल गांधी को कोर्ट में पेश होने का नोटिस आया


(Photo Credit : hindi.oneindia.com)

अहमदाबाद मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला को अहमदाबाद जिला सहकारी बैंक(Ahmedabad District Cooperative Bank) द्वारा दायर मानहानी के मामले में 27 मई को अदालत में पेश होने का नोटिस दिया है। अहमदाबाद जिला सहकारी बैंक ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और वरिष्ठ कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला के खिलाफ एक स्थानीय अदालत में एक आपराधिक मामला दर्ज किया।

शिकायतकर्ता, अहमदाबाद जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष अजय पटेल द्वारा दायर याचिका में कहा गया था कि दोनों नेताओं ने बैंक पर गलत आरोप लगाया है। मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट एसके गढ़वी ने इस मामले में CRPC की धारा 202 के तहत अदालत जांच का आदेश दिया।

गौरतलब है कि राहुल गांधी और रणदीप सुरजेवाला ने 8 नवंबर, 2016 को बैंक पर कथित रूप से आरोप लगाया कि 500-1000 रुपये के नोट बंद करने की घोषणा के पांच दिन में अहमदाबाद जिला सहकारी बैंक में 745.59 करोड़ रुपये का पुराना नोट जमा किया गया था।

मामला बीते वर्ष का है, बैंक के चेयरमैन ने मानहानी के दो मामले दर्ज किये थे। इस मामले की सुनवाई पहले हो चुकी है। चेयरमैन अजय पटेल ने कोर्ट में 5 गवाह भी पेश किये थे। तब कोर्ट ने फैसला आगे की तारीख पर सुनाने का फैसला लिया था। वकील ने अपील की थी कि राहुल गांधी के मानहानीकारक ट्वीट तथा रणदीप सुरजेवाला के मानहानीकारक प्रेस ब्रीफींग के बयान के लिए उन्हे IPC की धारा 500 के तहत सज़ा सुनाई जानी चाहीए।

चुनाव चौखट पर खड़े हैं। चनाव प्रचार जोर-शोर से चल रहे हैं। कांग्रेस ने देश की बड़ी-बड़ी पार्टियों के साथ मिलकर महागठबंधन भी किया है ताकी वे भाजपा को हरा सकें और मोदी को फिर से आने से रोक सकें। ऐसे में यह नोटिस अथवा केस क्या प्रभावित करेगा चुनाव को। अब राहुल गांधी को ना सिर्फ लोकसभा चुनाव 2019 की चिंता होगी बल्की अब इस कोर्ट केस से कैसे निप्टे इसकी भी चिंता सर पर आ पड़ी है।