सार्वजनिक स्थल पर थूकने वालों पर अब राजकोट भी करेगा कार्यवाही, जानें कैसे


(Photo Credit : jagran.com)

अब अगर आप राजकोट की सड़क पर जा रहे हैं और सड़क पर पान मसाला खाते हैं और रास्ते में थूकते हैं तो समझिये आप तो गए। क्योंकि, राजकोट में अब सीसीटीवी कैमरों से जनता पर नजर रखी जा रही है और अगर आप कैमरे में थूकते पकड़े जाते हो, तो आपको जुर्माना देना होगा। बता दें कि सार्वजनिक स्थल पर थूकने पर ई-मेमो की शुरुआत अहमदाबाद नगर निगम ने की थी।

एक रिपोर्ट के अनुसार, जैसे कि अहमदाबाद नगर निगम द्वारा सार्वजनिक स्थल पर थूकने के लिए ई-मैमो भेजा जाता है। वैसे ही अब, राजकोट में, आप किसी भी स्थान पर कोई वाहन ले जा रहे हैं और पान-मसाला खा कर थूकते हैं तो राजकोट नगर निगम द्वारा आपके घर एक ई-मैमो भेजा जाएगा। । इस संबंध में राजकोट नगर निगम द्वारा एक अधिसूचना जारी की गई है। यह प्रक्रिया सड़क-आधारित सीसीटीवी कैमरे का उपयोग करके की जाएगी और इस सीसीटीवी कैमरे की कमान और नियंत्रण केंद्र से निगरानी की जा रही है। बाइक पर या कार से पान मसाला खाकर थूकने वाले व्यक्ति के वाहन की नंबर प्लेट रास्ते में लगे सीसीटीवी कैमरे का उपयोग करके स्कैन की जाती है और इस नंबर प्लेट के आधार पर घर के पते पर ई-मैमो भेजा जाएगा।

अगर कोई भी व्यक्ति पहली बार थूकता हुआ कैमरे में पकड़ा जाता है, तो उसके घर पर 250 रुपये का ई-मैमो, अगर दूसरी बार पकड़ा जाता है तो 500 रुपये ई-मैमो और तीसरी बार मिलता है, तो 700 रुपये का ई-मैमो उसके घर पर भेजा जाएगा। सात दिनों के भीतर ई-मैमो राशि व्यक्ति को निकटतम वार्ड कार्यालय में भरना होगा और यदि इस राशि का भुगतान नहीं किया जाता है, तो नगर निगम के अधिकारियों द्वारा व्यक्ति के घर जाकर 1,000 रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा।