गुजरात में टमाटर के भावों में वृद्ध‌ि बना गृह‌िण‌ियों की चिंता का विषय


(Photo Credit : timesofindia.com)

एक ओर जहां तपती गर्मी के कारण लोग परेशान हो रहे हैं। दूसरी ओर लाल लाल टमाटर भी लोगों की जेब खाली कर रहे हैं। कारण कि गर्मियों में टमाटर की कीमतों में बहुत अधिक वृद्धि देखी गई है। जो टमाटर 2 महिना पहले 15 से 20 रुपये किलो मिलते थे। अब उसी टमाटर की कीमत 40 से 60 रुपये प्रति किलो हो गई है।

टमाटर की कीमतों में वृद्धि का कारण यह है कि गुजरात के किसानों द्वारा उगाए गए टमाटर का स्टॉक समाप्त हो गया है। जिसके कारण अब टमाटर नासिक, महाराष्ट्र, पुणे और पंजाब से गुजरात में मंगाए जा रहे हैं। जिसके कारण 15 से 20 रुपये किलो में मिलने वाला टमाटर अब बाजार में 40 से 60 रुपये किलो मिल रहा है। टमाटर की कीमतों में 20 से 30 रुपये की बढ़ोतरी के कारण गृहिणियों का बजट हिल गया है।

टमाटर के व्यापारियों ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि टमाटर की कीमत 15 दिनों में ढाई गुना बढ़ गई है। टमाटर के दाम 25 से 30 थे। वर्तमान में, टमाटर की कीमतें 40, 50 और अच्छी गुणवत्ता वाले टमाटर की कीमत 60 रुपये है। इसका कारण यह है कि, गुजरात से आने वाला टमाटर की गर्मी के कारण अब सीज़न पूरी हो गयी है। अब जो टमाटर बाजार में आता है यह नासिक, पुणे, महाराष्ट्र और पंजाब से आते हैं। टमाटर बाहर से आने के कारण इसमें वाहन का खर्च और अन्य किराये के कारण टमाटर की कीमत में बढ़ोतरी हुई है।

गृहिणीयों ने मीडिया के साथ बातचीत की और कहा कि वर्तमान में टमाटर की कीमत 40 से 60 है। आलू, बाजरा, और बैंगन जैसी शेष सब्जियां सस्ती हैं। लेकिन टमाटर अधिक महंगा हो गया है।