किसान ने अरंड़ी की आड़ में उगाया गांजा, जानें क्या हुआ अंजाम


(Photo Credit : dainikbhaskar.com)

गुजरात में शराब, गांजा और अफीम जैसे नशीले पदार्थों की बिक्री अवैध है। जबकि कुछ बूटलेगर्स अन्य राज्यों से विदेशी शराब की तस्करी करते हैं। पुलिस की सतर्कता के कारण बूटलेगर्स शराब के साथ पुलिस द्वारा पकड़े जाते हैं। अब गुजरात के एक किसान ने कम काम करके अधिक पैसा कमाने के लालच में कानून का उल्लंघन करते हुए अपने खेत में गांजा और अफीम की खेती की। लेकिन कहा जाता है ना कि ‘बुरे काम का बूरा नतीजा’। पुलिस को इस मामले की खबर मिल गई। जैसे ही पुलिस को इस मामले के बारे में पता चला, पुलिस ने किसान के खेत पर छापा मारा और गांजा और अफीम पर कब्जा कर लिया और किसान को जेल की सलाखों के पीछे पहुंचा दिया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार जीवनजी ठाकोर नाम के एक किसान ने पाटन के पिपलाना गाँव में अपने खेत में अरंडी का बीज लगाया। जीवनजी ठाकोर ने अरंडी के बीज की आड़ में गांजा और अफीम का बीजारोपण किया। पुलिस मुखबिर द्वारा इस बात का पता लग गया। मुखबिर ने बात के पता लगते ही इसकी सूचना पाटन SOG को दी। खुफिया सूचना के आधार पर, एसओजी ने स्थानीय पुलिस के साथ खेत में छापेमारी की। जब पुलिस खेत में पहुंची, तो उन्हें पता चला कि किसान ने खेत के चारों ओर अरंडी के बीज बोए थे और ढाई एकड़ जमीन में अफीम और गांजे की बुवाई कर रखी थी।

पुलिस ने किसान जीवनजी ठाकोर के खिलाफ कार्रवाई की और 500 किलो हरा गांजा और अफीम कबजे में ले लिया।