अल्पेश ठाकोर को लोकसभा चुनाव में परदे के पीछे भाजपा को समर्थन देने का ईनाम मिलेगा


(Photo Credit : etimg.com)

कांग्रेस का दामन छोड़ चुके अल्पेश के भाजपा में आने की अटकलें, गुजरात डिप्टी सीएम से की भेंट

अहमदाबाद (ईएमएस)। देश में हुए लोकसभा चुनाव में भाजपा की बप्पर जीत से राजनीतिक उथल-पुथल अभी रुकी नहीं है। चुनाव के दौरान कांग्रेस छोड़ने वाले अल्पेश ठाकोर ने सोमवार को गुजरात के उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल से मुलाकात की। अटकलें लगाई जा रही हैं कि वह भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो सकते हैं।

चुनाव से पहले भी ऐसी अटकलें लगाई जा रही थीं, लेकिन तब ऐसा कुछ नहीं हुआ था। बताया जा रहा है कि जल्द ही अल्पेश ठाकोर अपने तीन-चार अहम साथियों के साथ बीजेपी में शामिल हो सकते हैं। सोमवार को नितिन पटेल के साथ उनकी बैठक करीब 1 घंटे तक चली थी। अल्पेश ठाकोर राज्य के उभरते हुए एक ओबीसी नेता हैं, गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान वह चर्चा में आए थे। विधानसभा चुनाव में अल्पेश-जिग्नेश-हार्दिक की तिकड़ी ने बीजेपी की नाक में दम कर दिया था। अल्पेश ठाकोर अभी गुजरात के राधनपुर से कांग्रेस के टिकट पर विधायक हैं।

विधानसभा चुनाव के दौरान उन्होंने कांग्रेस का दामन थाम लिया था, लेकिन लोकसभा चुनाव के दौरान उनके नाराज़ होने की खबरें भी आई थीं। जिसके बाद उन्होंने राहुल गांधी और प्रियंका गांधी से मुलाकात की थी। दरअसल, अल्पेश की ठाकोर सेना लोकसभा चुनाव के दौरान टिकट न मिलने के कारण नाराज थी। यही वजह है कि उनके समर्थकों की तरफ से लगातार उनपर कांग्रेस छोड़ने का दबाव बनाया जा रहा था।

गौरतलब है कि पाटीदार आंदोलन के वक्त उनके जोड़ीदार रहे हार्दिक पटेल भी कांग्रेस का दामन थाम चुके हैं। उनके भी लोकसभा चुनाव लड़ने की अटकलें थीं, लेकिन अदालत की तरफ से रोक लगने के कारण वह चुनाव नहीं लड़ पाए थे। 2017 में गुजरात में जो विधानसभा चुनाव हुआ था, उससे पहले पाटीदार आंदोलन ने बीजेपी की मुश्किलें बढ़ा दी थीं। इस आंदोलन की अगुवाई हार्दिक-जिग्नेश-अल्पेश ने ही की थी।