जानिये हार्दिक पटेल के समर्थन में क्या करने जा रही गुजरात कांग्रेस


हार्दिक पटेल के अनिश्चकालिन उपवास आंदोलन के बारहवें दिन गुजरात कोंग्रेस के प्रभारी और सांसद राजीव सातव उपवास छावनी पर उपस्थित रहे। (Image credit : facebook.com/hardikpatel.official)

गुजरात कांग्रेस ने चेताया, सरकार ने कोई कदम नहीं उठाया तो करेगी एक दिन का उपवास

अहमदाबाद । आरक्षण व किसानों की कर्जमाफी की मांग को लेकर 12 दिन से अनशनरत पाटीदार नेता हार्दिक पटेल के समर्थन में गुजरात कांग्रेस साथ कांग्रेस एक दिन का उपवास करेगी। गुरूवार को कांग्रेस के 30 नेता जिनमें पीसीसी प्रमुख अमित छावड़ा और नेता प्रतिपक्ष परेश धनानि शामिल थे के अलावा कांग्रेस के 25 विधायकों ने मुख्यमंत्री विजय रुपानी से हार्दिक के अनशन पर चर्चा की।

ज्ञात रहे कि गुजरात में बीते तीन साल से पाटीदार आरक्षण आंदोलन समिति पाटीदारों को आरक्षण की मांग कर रही है। वर्ष 2015 में स्थानीय निकाय तथा 2017 में विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को इसका सीधा लाभ पहुंचा, जिसके बाद अब लोस चुनाव से पहले कांग्रेस पाटीदार की मांग के समर्थन में खुलकर आ गई है। गुजरात कांग्रेस के प्रभारी व सांसद राजीव सातव, अध्यक्ष अमित चावडा, नेता विपक्ष परेध धनाणी, विधायक ग्यासुद्दीन शेख, हिम्मत सिंह पटेल, ललित वसोया सहित आधा दर्जन हार्दिक से मिल चुके हैं। अब कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री से मुलाकात कर हार्दिक से बातचीत के लिए दबाब बनाया है। कांग्रेस ने चेताया है कि यदि सरकार ने कोई कदम नहीं उठाया तो वह २४ घंटे का उपवास करेगी।

भाजपा प्रवक्ता भरत पंड्या ने कांग्रेस पर दोहरी नीति अपनाने का आरोप लगाते हुए पूछा है कि कांग्रेस शासित किसी राज्य में आर्थिक आधार पर आरक्षण दिया है क्या, आयोग का गठन किया है क्या, कांग्रेस पाटीदारों की ओबीसी के तहत मांग का समर्थन करती है क्या। भरत पंड्रया ने कांग्रेस पर राजनीति लाभ उठाने के प्रयास में समाज को जातियों में बांटने का भी आरोप लगाया।