गुजरात भाजपा अध्यक्ष जीतू वाघाणी 72 घंटे तक नहीं कर पायेंगे चुनाव प्रचार या सार्वजनिक कार्यक्रम


(Photo Credit : deshgujarat.com)

सूरत। गुजरात भाजपा अध्यक्ष जीतू वाघाणी पर चुनाव आयोग की गाज गिरी है। चुनाव आयोग ने उन्हें मॉडल कोड ऑफ कन्डक्ट के उल्लंघन का दोषी पाया है और अगले ७२ घंटों के लिये किसी भी सार्वजनिक कार्यक्रम या चुनाव प्रचार करने पर पाबंदी लगा दी है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार जीतू वाघाणी ने विगत ७ अप्रेल को सूरत के अमरोली में एक जनसभा की थी। इस जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने अपनी प्रतिद्वंदी पार्टी कांग्रेस के लिये आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग किया था। इस पर कांग्रेस के पदाधिकारियों ने अपना विरोध प्रकट करते हुए चुनाव आयोग के समक्ष शिकायत की।

राज्य चुनाव आयोग ने मामले की जांच करके अपनी रिपोर्ट केंद्रीय चुनाव आयोग को भेजी। केंद्रीय चुनाव आयोग ने मामले का संज्ञान लेकर अपना फैसला सुनाते हुए जीतू वाघाणी को चुनावी आचार संहिता के उल्लंघन का दोषी पाया। ऐसे में अब २ मई को सायं ४ बजे से ७२ घंटों के लिये जीतूभाई को किसी भी सार्वजनिक कार्यक्रम या चुनाव प्रचार से दूर रहना होगा। वैसे गुजरात में चुनाव पूरा हो चुका है लेकिन यदि जिन राज्यों में मतदान शेष है वहां पार्टी उन्हें प्रचार के लिये भेजना चाह रही होगी तो ऐसा अब ४ मई के बाद ही संभव हो पायेगा।